दिल्ली नर्सरी एडमिशन: अभिभावक हो जाओ तैयार, आपके लाडले के दाखिले की तारीख तय हुई

0
25

नई दिल्ली: निजी स्कूलों में दाखिले की चाहत रखनेवाले अभिभावक तैयार हो जाओ. इस साल दिल्ली के निजी स्कूल 15 दिन पहले ही दाखिले की प्रक्रिया शुरू करने जा रहे हैं. इससे पहले दाखिले की प्रक्रिया आम तौर पर मिड दिसंबर में शुरू होती थी. लेकिन इस बार केजी, नर्सरी और क्लास 1 के लिए वक्त से पहले प्रोसेस शुरू हो रहा है. ऐसे में आप अगर बेखबर हैं तो इस खबर को पढ़कर कमर कस लें.

दाखिले की प्रक्रिया के शेड्यूल

निजी स्कूलों में 28 नवंबर से नर्सरी के लिए दाखिला शुरू होगा. 29 नवंबर से फॉर्म भरे जाएंगे. फार्म भरने की आखिर तारीख 27 दिसंबर होगी. 10 जनवरी तक निजी स्कूलों को बच्चों की डिटेल्स बतानी होगी. 17 जनवरी तक प्वाइंट वाइज सिस्टम के तहत नंबरों को अपलोड करना होगा. 24 जनवरी तक पहली लिस्ट, वेटिंग लिस्ट जारी करनी होगी. 27 जनवरी से 3 फरवरी तक अभिभावकों को अपनी शिकायतों को दर्ज कराने का मौका होगा. 12 फरवरी को दूसरी लिस्ट जारी की जाएगी. इसके बाद 16 मार्च तक दाखिले की प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी. शिक्षा विभाग से जुड़े अधिकारी का कहना है कि ये बदलाव आर्थिक रूप से कमजोर, दिव्यांग और स्पेशल बच्चों के दाखिले को सुनिश्चित करने के लिए किया गया है. शिक्षा का मौलिक अधिकार के तहत ऐसे बच्चों के लिए निजी स्कूलों में 25 फीसद सीट आरक्षित किया गया है. शिक्षा निदेशालय की तरफ से हर जिले में गठित मॉनिटरिंग सेल स्कूलों की मनमानी पर नजर रखता है. साथ ही उसे इस बात को भी देखना होता है कि निजी स्कूल उसके बनाये नियम का पालन कर रहे हैं या नहीं. क्या समय पर जानकारी वेबसाइट पर अपलोड कर रहे हैं ? क्या निजी स्कूल अभिभावकों की शिकायतों का निपटारा कर रहे हैं ? शिक्षा निदेशालय ने निजी स्कूलों के लिए 50 प्वाइंट की लिस्ट जारी की है. जिसको बुनियाद बनाकर निजी स्कूल बच्चों का दाखिला नहीं ले सकते.

अभिभावकों को जमा करने के लिए जरूरी दस्तावेज

• निवास प्रमाण पत्र
• राशन कार्ड, बच्चे के नाम जारी स्मार्ट कार्ड जिस पर पिता का नाम दर्ज हो
• राज्य का स्थायी शहरी होने का प्रमाण पत्र. चाहे पिता का हो या बच्चे का
• पिता का वोटर आईडी
• बिजली, टेलीफोन, पानी बिल या फिर बच्चे के नाम या पिता के नाम से बना पासपोर्ट
• पिता के नाम से बना आधार कार्ड

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.