सर्दी शुरू होते ही दिल्ली पुलिस के छूटने लगे पसीने, बढ़ जाती है चोरी की घटनाएं

0
87

नई दिल्ली: दिल्ली में वॉलेट से लेकर मंहगी लग्जरी गाड़ियां चोरी के निशाने पर हैं. घर,मकान और दुकान भी सुरक्षित नहीं हैं. चोरी की घटनाओं का ग्राफ दिल्ली में बढ़ा है. दिल्ली पुलिस मामले तो दर्ज कर रही है कि लेकिन इनका वर्कआउट करने में बहुत पीछे है.

सर्दी में चोरी की घटनाएं बढ़ जाती हैं. दुकान, मकान और घर चोरों के निशाने पर रहते हैं. दिल्ली में चोरों के कई गिरोह सक्रिय हैं जो मौका लगते ही हाथ साफ कर देते हैं. पॉश कालोनी में बने घर भी चोरों के निशाने पर हैं. खास बात है कि लोगों द्वारा सुरक्षा के तमाम इंतजाम करने के बाद भी चोरी की घटनाओं को चोर आसानी से अंजाम दे रहे हैं. हाईटेक हो चुके चोर सीसीटीवी की डीवीआर भी घटना के बाद साथ ले जाते हैं जिस कारण चोरों की शिनाख्त में मुश्किल आती है. डीवीआर ले जाना अगर संभव नहीं है तो चोर नकाब पहनकर घटना को अजांम देते हैं.

सर्दी का मौसम आते ही दिल्ली पुलिस की भी नींद उड़ गई है. उच्चाधिकारियों ने थानों के एसएसओ को निर्देश देते हुए अपने अपने क्षेत्र में निरंतर रात्रि गश्त करने को कहा है. उन थाना क्षेत्रों में विशेष गश्त की जा रही है जहां चोरी की अधिक घटनाएं हुई हैं. इस वर्ष आठ माह में अबतक 40 हजार से अधिक एफआईआर दर्ज की गई हैं जिनमें चोरी की घटनाओं की संख्या अच्छी खासी है. वाहन चोरी की घटनाओं का भी ग्राफ तेजी से बढ़ा है. दुकान के शटर तोड़कर चोरी करने की घटनाएं भी नहीं थम रही हैं.

चोरी और लूट की बढ़ती घटनाओं को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट दिल्ली पुलिस की फटकार भी लगा चुका है. ऐसे में सर्दी के मौसम में घरों में होने वाली चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस ने अभी से रणनीति बनाना शुरू कर दिया है.

पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि घरों को खाली न छोड़ें, खाली घरों को चोर आसानी से निशाना बना लेते हैं. घर में ताला लगाकर जाने पर पड़ोसियों को जरूर बताकर जाएं ताकि कोई भी संदिग्ध हरकत होने पर पुलिस को सूचित किया जा सके.वहीं चोरों को पकड़ने के लिए पुलिस अब थानेवार चोरों की सूची भी तैयार करने की योजना बना रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.