वेस्टइंडीज के खिलाफ हार के बाद कप्तान कोहली बोले- ‘ऐसी फिल्डिंग किसी स्कोर का बचाव नहीं कर सकती’

0
104

तिरुवनंतपुरम: वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में हार के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टीम के क्षेत्ररक्षण की आलोचना की है. कप्तान कोहली ने कहा कि अगर ऐसी स्थिति रही तो किसी भी लक्ष्य बचाव करना मुश्किल होगा. उन्होंने खिलाड़ियों से क्षेत्ररक्षण के दौरान ज्यादा ‘मुस्तैद’ रहने को कहा. गौरतलब है कि रविवार के मैच में तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की लगातार दो गेंदों पर वाशिंगटन सुंदर और विकेटकीपर ऋषभ पंत ने सलामी बल्लेबाज लेंडल सिमंस और निकोलस पूरन का कैच टपका दिया था.

इसके बाद सिमंस ने 45 गेंद में नाबाद 67 रन बनाये जबकि निकोलस पूरन ने 18 गेंद में 38 रन की ताबड़तोड़ नाबाद पारी खेली जिससे वेस्टइंडीज ने मुकाबले को आठ विकेट से अपने नाम किया. कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘अगर हमारा क्षेत्ररक्षण इतना खराब रहा तो कोई भी लक्ष्य काफी नहीं होगा. पिछले दो मैचों में हमारा क्षेत्ररक्षण काफी खराब रहा. हमने एक ओवर में दो कैच टपकाए (सुंदर और पंत). अगर हमने दोनों विकेट ले लिये होते तो उन पर दबाव बढ़ जाता.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हर किसी को मैदान में मुस्तैद रहने की जरूरत है. मुंबई में मुकाबला करो या मरो का होगा.’’

भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पिछले 15 टी20 मैचों में सात गंवा दिये हैं. कोहली से जब इस आंकड़े के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘आंकड़े काफी कुछ कहते है. मुझे लगता है कि हम पहले बल्लेबाजी करते हुए शुरूआती 16 ओवरों में चार विकेट पर 140 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थे लेकिन आखिरी चार ओवर में चीजें हमारे मुताबिक नहीं रही. हमें इसमें 40-45 रन बनाने चाहिए थे जबकि हम सिर्फ 30 रन ही बना सके. हमें इस पर ध्यान देना होगा.’’

भारतीय कप्तान ने युवा बल्लेबाज शिवम दुबे की तारीफ की जिन्होंने 30 गेंद में 54 रन बनाये. कोहली ने कहा, ‘‘हमने दुबे को तीसरे क्रम पर भेजना का फैसला किया जो सही साबित हुआ.’’ उन्होंने कहा, ‘‘उसकी पारी से हम 170 के आंकड़े तक पहुंच सके. ईमानदारी से कहूं तो वेस्टइंडीज ने अच्छी गेंदबाजी की. उन्होंने हम से बेहतर तरीके से पिच का आकलन किया. उन्होंने अच्छा खेला और जीत के हकदार थे.’’

वेस्टइंडीज के कप्तान कीरोन पोलार्ड इस बात से संतुष्ट थे कि उनके गेंदबाजों ने भारत को 170 रन पर रोक दिया. उन्होंने कहा, ‘‘भारत को 170 रन पर रोकना शानदार रहा. हमने लक्ष्य का पीछा करने की योजना बनायी थी और और खिलाड़ियों ने बेहतरीन तरीके से लक्ष्य का पीछा किया.’’ उन्होंने लेग स्पिनर हेडन वाल्श की प्रशंसा की जिन्होंने चार ओवर में 28 रन देकर दो विकेट लिये. पोलार्ड ने कहा, ‘‘टीम में कुछ ऐसे खिलाड़ी है जिन्होंने सीपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया है. मैं युवा खिलाड़ियों को लेकर रोमांचित हूं. वाल्श के चार ओवर शानदार रहे.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.