उप्र : फतेहपुर में दुष्कर्म बाद किशोरी को जिंदा जलाने की कोशिश

0
95

फतेहपुर, उन्नाव में दुष्कर्म पीड़िता की जलाकर हत्या करने का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि शनिवार को फतेहपुर में दरिंदगी की शिकार एक किशोरी पर आरोपी ने कथित रूप से मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। गंभीर रूप से झुलसी युवती को कानपुर रेफर कर दिया गया है। पुलिस के अनुसार, हुसैनगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में घर में किशोरी अकेली थी। आरोप है इस बीच गांव का एक युवक घर में घुस आया और किशोरी के साथ उसने दुष्कर्म किया। इसके बाद घर में ही किशोरी पर केरोसिन डालकर आग लगा दी और फिर वहां से भाग गया। आग की लपटों में घिरी किशोरी को देखकर पड़ोसी दौड़े और उसकी आग बुझाई। 

सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे अस्पताल भिजवाया, और डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद पीड़िता की हालत गंभीर होने पर उसे कानपुर रेफर कर दिया है।

90 फीसदी झुलसी किशोरी को आनन-फानन में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां से उसे गंभीर हालत में कानपुर के हैलट अस्पताल रेफर किया गया है। 

पीड़िता के पिता ने बताया, “मेरी 18 वर्ष की पुत्री घर में अकेली थी। रिश्ते में 22 वर्षीय चाचा उस पर गंदी नीयत रखता था। शनिवार दोपहर घर में अकेला देखकर वह घर में घुस आया और बेटी से दुष्कर्म किया। बेटी ने परिवार में शिकायत करने की बात कही तो उसने उस पर केरोसिन डालकर आग लगा दी।”

सीओ सिटी कपिलदेव मिश्रा ने बताया, “पीड़िता के भाई ने पुलिस को तहरीर दी है। आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।”

डीएम संजीव सिंह और एसपी प्रशांत वर्मा पीड़िता को रेफर किए जाने के बाद उसके गांव पहुंचे। उन्होंने गांव के लोगों से घटना के बारे जानकारी ली और परिजनों को भरोसा दिया कि आरोपित को सख्त सजा दिलावाई जाएगी।

एसपी प्रशांत वर्मा के पीआरपो ने बताया, “इस मामले में आरोपी पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। टीमें गठित कर दबिश दी जा रही है। पुलिस सारे मामले की जांच कर रही है।”

फतेहपुर जिला अस्पताल की इमरजेंसी में तैनात डॉ. नरेश विशाल ने बताया, “पीड़िता 90 फीसदी झुलस गई है। पैर के निचले हिस्से ही शेष बचे हैं। बाकी शरीर बुरी तरह झुलस गया है। पीड़िता को जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के हैलट अस्पताल में भर्ती कराया गया है।”

हैलट अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर डॉ. अनुराग राजूरिया ने बताया, “पीड़िता को सेंट्रल ऑक्सीजन लाइन डाली गई। उसे माइनर ऑपरेशन थियेटर(ओटी) ले जाया गया है। उसे स्टेबल करने के बाद बर्न वार्ड में शिफ्ट किया जाएगा।”

अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक प्रो़ आर.के. मौर्या का कहना है की शासन को मौखिक जानकारी दी जा रही है। युवती का बेहतर उपचार शुरू कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.