जामिया में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर प्रदर्शन जारी, सेमेस्टर की सभी परीक्षाएं स्थगित

0
185

नई दिल्ली: नागरिकता (संशोधन) कानून के खिलाफ विश्वविद्यालय में जारी प्रदर्शन के मद्देनजर जामिया मिलिया इस्लामिया में शनिवार को होने वाली सेमेस्टर की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं. विश्वविद्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘आज होने वाली सेमेस्टर की सभी परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है.’’

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में शुक्रवार को जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्रों का मार्च रोकने के कारण प्रदर्शनकारियों और पुलिस में झड़प हो गयी थी. प्रदर्शनकारी विश्वविद्यालय से निकलकर संसद भवन की ओर जाना चाह रहे थे.जिस के बाद छात्रों और पुलिसकर्मियों के बीच तनवपूर्ण माहौल हो गया था. जिसमे कई छात्र और पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे.

छात्र कल ही एग्जाम बॉयकॉट करने की बात कर रहे थे. छात्रों का कहना है कि एग्जाम बॉयकॉट कर के हम नागरिकता संशोधन बिल और पुलिस के खिलाफ विरोध करेंगे.

विश्वविद्यालय की एक छात्रा ने कहा कि कल हम एक पीसफुल प्रोटेस्ट कर रहे थे.हम यहां से पार्लिमेंट के लिए निकल रहे थे. पुलिस ने हम पर टीयर गैस छोड़ा, ओपन फायरिंग की और लाठीचार्ज किया. इससे कुछ बच्चे बहुत घायल हो गए हैं और 50 बच्चों को डिटेन भी करा गया था. यहां का माहौल कल बहुत वॉयलेंट हो गया था. हम आज अपने एग्जाम बॉयकॉट कर के पुलिस और बिल का विरोध करेंगे.

नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में देश के कई शहरों में प्रदर्शन हुआ. दिल्ली में कांग्रेस ने मोर्चा निकाला.

क्या है CAB?

कैब यानि नागरिकता संशोधन बिल, भारत के सिटिजनशिप एक्ट 1955 में बदलाव करेगा. इसके कारण पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश आदि से धार्मिक उत्पीड़न के कारण भाग कर आए गैरमुस्लिमों को भारत की नागरिकता दी जाएगी. इस बिल में मुस्लिम शरणार्थियों को नागरिकता की बात नहीं की गई है और यही बात विरोध का कारण है.

विपक्ष कर रहा है विरोध

विपक्ष इस बिल को लेकर सरकार का विरोध कर रहा है. देश के अलग अलग इलाकों में भी बिल के खिलाफ जनाक्रोश देखने को मिल रहा है. विपक्षी दल इस बिल को बांटने वाला बिल करार दे रहे हैं और सरकार पर निशाना साध रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.