‘ग्लोबल चाइल्ड प्रोडिजी अवॉर्ड 2020’ से सम्मानित हुए 50 जीनियस बच्चे

0
101

नई दिल्ली: दुनियाभर से विलक्षण प्रतिभा वाले 100 बच्चों को ‘ग्लोबल चाइल्ड प्रोडिजी अवॉर्ड 2020’ के लिए चयनित किया गया है, जिनमें से शुक्रवार शाम 50 बच्चों को नई दिल्ली के अशोका होटल में आयोजित समारोह में सम्मानित किया गया. विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले भारत समेत दुनिया के विभिन्न देशों से चयनित बच्चों को यह पुरस्कार नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी और पुडुचेरी की राज्यपाल डॉक्टर किरण बेदी द्वारा प्रदान किया गया.

चयन समिति द्वारा ‘ग्लोबल चाइल्ड प्रोडिजी अवॉर्ड 2020’ में सम्मानित होने वाले बच्चों का आंकलन कई मापदंडों के आधार पर किया गया. इस सूची में भारत के अलावा यूएसए, यूके, यूएई, स्पेन आदि देशों से सामाजिक कार्य, लेखन, अभिनय, मार्शल आर्ट, पेंटिंग, मॉडलिंग आदि क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का परचम लहराने वाले बच्चों का चयन किया गया है. मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद कैलाश सत्यार्थी ने बच्चों और उनके माता पिता को संबोधित करते हुए अभिभावकों से खास तौर पर तीन चीज़ों से दूर रहने को कहा. जैसे कि अपने सपनों को बच्चों पर न थोपें, केवल उन्हें इंस्ट्रक्ट यानि कि हिदायत ना दें बल्कि उनके दोस्त बनें और बच्चों के बाधक ना बनें. उनके सपनों को पंख देने की कोशिश करें. बच्चों की क्षमता को पहचाने, उनकी प्रतिभा का आदर करें साथ ही उन्हें अच्छा काम करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए इनाम भी दें.

सूची में भारत से भी कई जीनियस बच्चों ने अपनी जगह बनाई है. इंडियाज गॉट टैलेंट में सेमीफाइनल तक पहुंचे अक्षत सिंह को डांस की श्रेणी में सम्मानित किया गया. एबीपी न्यूज़ से खास बातचीत में अक्षत ने बताया कि वो चार साल की उम्र से डांस सीख रहे हैं और हाल ही में ब्रिटेनज़ गॉट टैलेंट में भी आमंत्रित किए गए थे. जहां उन्होंने अपने देश का नाम रौशन किया है. 14 साल के अक्षत डांस के जरिए लोगों को खुश करना चाहते हैं और अपने पैशन को फॉलो करने की सीख भी देते हैं. 13 साल के तिलक मेहता को व्यवसाय के क्षेत्र में अवॉर्ड से नवाजा गया. मुंबई के रहने वाले तिलक ने छोटी उम्र में एक ऐसा एप- ‘पेपर्स एंड पार्सल्स’ बनाया है जिसके जरिए कूरियर करना सरल हो जाएगा और एप के जरिए कुछ घंटों में किसी भी सामान की डिलीवरी हो जाएगी. एबीपी न्यूज़ से बातचीत में तिलक बताते हैं कि मुंबई के डब्बेवालों को इस एप से खास फायदा मिलेगा. इशिता कत्याल, आरती गुप्ता, अयान गोगोई को लेखन में अयान ज़ुबैर रहमानी को अभिनय में प्रोडिजी अवॉर्ड से सम्मानित किया गया.

ग्लोबल चाइल्ड प्रोडिजी अवॉर्ड (जीसीपी) कला, संगीत, नृत्य, लेखन, मॉडलिंग, अभिनय, विज्ञान और खेल जैसे विभिन्न श्रेणियों में बाल प्रतिभा को पहचानने के उद्देश्य से स्थापित अपनी तरह का पहला मंच है. इस पहल का उद्देश्य नई प्रतिभाओं को प्रेरित करना और वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.