दो राजधानियों में बेटियों से रेप / भोपाल में घर के बाहर खेल रही 5 साल की बच्ची से ज्यादती; पटना में 4 लड़कों ने छात्रा को अगवाकर गैंगरेप किया

0
58

भोपाल/पटना. दिल्ली की अदालत में मंगलवार को जब निर्भया के गुनहगारों की फांसी की तारीख तय हुई। उसी दिन मध्य प्रदेश और बिहार की राजधानियों में बेखौफ दरिंदों ने बेटियों से ज्यादती की। पहली घटना में भोपाल के 27 वर्षीय आरोपी ने 5 साल की बच्ची को उसके घर के बाहर से उठा लिया। वह चॉकलेट देने के बहाने उसे अपने घर ले गया और ज्यादती करने लगा। दूसरी घटना में कार सवार 4 लड़कों ने पटना के जीवी मॉल से बीबीए सेकंड ईयर की छात्रा (20 साल) को अगवाकर सामूहिक दुष्कर्म किया। इनमें से पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

केस-1
भोपाल के अशोका गार्डन इलाके में बच्ची से हैवानियत करने वाला रामबाबू मालवीय खुद दो बच्चों का पिता है। बच्ची घर के बाहर खेल रही थी, तभी रामबाबू उसके पास पहुंचा। 10 रुपए और चॉकलेट का लालच देकर उसे अपने घर ले गया। कमरे का दरवाजा बंद करके पहले उसने मोबाइल फोन पर पोर्न मूवी देखी, फिर फिर बच्ची के साथ ज्यादती की। बच्ची की चीख सुनकर लोग इकट्‌ठा हुए और उसे धरदबोचा और पुलिस के हवाले कर दिया। चार महीने पहले रामबाबू मोहल्ले की ही एक दूसरी बच्ची को पोर्न मूवी दिखा चुका है। हालांकि, इस मामले में दोनों पक्षों में समझौता हो गया था।

नाबालिग से ज्यादती, अपहरण सहित कई धाराओं में केस दर्ज
एएसपी संजय साहू ने बताया कि रामबाबू शादीशुदा है और उसके उसी बच्ची की उम्र के दो बच्चे भी हैं। वह पोर्न मूवी देखने का आदी है, इसलिए वह इस तरह की हरकतें कर रहा है। पुलिस ने उसके खिलाफ नाबालिग से ज्यादती, बंधक बनाने, अगवा करने की धारा में केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

केस- 2 
पटना में चार आरोपियों ने जीवी मॉल से बीबीए छात्रा को पिस्टल की नोक पर कार में बैठाया। फिर उसे पाटलिपुत्र कॉलोनी के एक अपार्टमेंट के फ्लैट पर ले गए। यहां छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और इसका वीडियो भी बना लिया। आरोपी विनायक और संदीप ने धमकी दी थी कि किसी काे बताया ताे वीडियो वायरल कर देंगे। जान से भी मार डालेंगे। दाे अन्य आरोपी कुश और विकास अपार्टमेंट के बाहर में निगरानी कर रहे थे। एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने घटनास्थल पर छापेमारी कर कुश को गिरफ्तार किया। इसके बाद विकास भी पकड़ा गया। पालीगंज में संदीप और हाजीपुर में विनायक के घर भी छापेमारी की गई। दोनों फरार हैं।

2 आरोपी गिरफ्तार, दोनों विधायक के शागिर्द रहे
विनायक सिंह: 
बोरिंग रोड में रहता है। हाजीपुर का है। फायरिंग-मारपीट में जेल गया था। नशेड़ी है। शराब का धंधा करता है।
कुश: पहले एक विधायक के साथ रहता था। छोटा-मोटा ठेका लेता है। मोकामा का रहने वाला है।
संदीप मुखिया: पटना में पार्किंग का ठेका लेता है। दुल्हिन बाजार का है। मुखिया का चुनाव लड़ा था। जगदेव पथ में रहता है। शादीशुदा है।
विकास: मोकामा का है। एक विधायक के साथ रहता था। छोटा-मोटा ठेकेदारी करता है। शादीशुदा है। कार इसी की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.