Delhi Elections 2020: चुनाव प्रचार के बीच अचानक कार्यकर्ता के घर भोजन करने पहुंचे अमित शाह

0
84
New Delhi: Union Home Minister Amit Shah arrives at Parliament House during the ongoing Winter Session, in New Delhi, Monday, Dec. 9, 2019. (PTI Photo/Arun Sharma)(PTI12_9_2019_000136B)

नई दिल्ली: दिल्ली में विधानसभा चुनाव प्रचार के बाद गृह मंत्री अमित शाह का एक अलग अंदाज ही दिखा. दिल्ली में शुक्रवार को तीन चुनावी सभाओं को संबोधित कर अमित शाह देर शाम यमुना विहार पहुंचे . यमुना विहार में अपनी अंतिम नुक्कड़ सभा को संबोधित करने के बाद अमित शाह बीजेपी के सामान्य कार्यकता के घर भोजन करने पहुंच गए. उनके साथ दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी भी थे.

अमित शाह को भोजन में दाल, रोटी और सब्जी परोसी गई. रात्रि भोजन का कार्यक्रम यमुना विहार के बीजेपी प्रेसिडेंट के घर पर हुआ. यमुना विहार के एक बीजेपी नेता के मुताबिक रात्रि भोजन का कार्यक्रम अंतिम समय में तय किया गया. इस दौरान अमित शाह और मनोज तिवारी के अलावा सिर्फ दो और नेता घर के अंदर मौजूद थे.

गौरतलब है कि बीजेपी अध्यक्ष रहने के दौरान अमित शाह पार्टी के सामान्य कार्यकर्ता के घर भोजन करते रहे हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले जब अमित शाह को यूपी का प्रभारी का दायित्व सौंपा गया था, उस दौरान अमित शाह हर दिन कार्यकर्ताओं के घर भोजन करते रहे थे. इस दौरान अमित शाह के इस नजरिये को काफी सराहा गया था. हालॉकि बीजेपी और संघ में यह परंपरा पुरानी रही है. लेकिन दिल्ली चुनाव प्रचार के दौरान अमित शाह का आम कार्यकता के घर भोजन करने पहुंचना किसी अचंभे से कम नहीं है.

माना जा रहा है कि गृह मंत्री अमित शाह के इस कदम से जहां बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच उत्साह का संचार होगा, वहीं उनको जीत का मूल मंत्र मिल पाएगा.

कुल 70 विधानसभा सीटों पर 8 फरवरी को वोटिंग
दिल्ली की कुल 70 विधानसभा सीटों पर 8 फरवरी को वोटिंग होनी है. नतीजे 11 फरवरी को घोषित किए जाएंगे. दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी अपने उम्मीदवारों का एलान कर चुकी है. अब नजरें बीजेपी और कांग्रेस पर है. पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी दूसरे नंबर थी हालांकि उसे महज तीन सीटें ही मिली थीं. 70 में से 67 सीटें अकेले आप ने जीती थी और तीन सीटें बीजेपी के खाते में आई थीं.

बनाए जाएंगे 13750 पोलिंग स्टेशन
इस बार दिल्ली में 13750 पोलिंग स्टेशन बनाए जाएंगे. 2689 जगहों पर वोटिंग होगी. 90 हजार कर्मचारी चुनाव में तैनात किए जाएंगे. बुजुर्ग भी पोस्टल बैलेट से वोट दे पाएंगे. उन्हें पांच दिन पहले ही पर्चा भरना पड़ेगा. चुनाव आयोग की तरफ से चुनाव की तारीखों के एलान के साथ ही दिल्ली में आचार संहिता लागू हो गई है. अब सरकार किसी भी योजना का एलान नहीं कर पाएगी.

22 फरवरी को खत्म हो रहा है दिल्ली विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल
दिल्ली विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल 22 फरवरी को खत्म हो रहा है. 14 जनवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव का नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा. 21 जनवरी को नामांकन की आखिरी तारीख होगी. नामांकन की स्क्रूटनी की आखिरी तारीख 22 जनवरी होगी. नाम वापस लेने की आखिरी तारीख 24 जनवरी है. 70 विधानसभा सीटों में से 58 सीटें सामान्य केटेगरी की हैं. जबकि 12 सीटें आरक्षित हैं.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.