नई दिल्ली: अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर भारतीय कॉउंसलेट के सामने सैकड़ों भारतीयों ने इकठ्ठा होकर, CAA के समर्थन में जूलूस निकाला और नारे लगाए. ”कश्मीर तो एक झांकी है POK बाकी है” जैसे नारे भी भारतीय समुदाय के लोगों ने लगाए. इस समय दुनिया भर में भारतीय समुदाय कर लोग इकट्ठा होकर CAA के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे हैं.

अमेरिका में 26 जनवरी के दिन गणतंत्र दिवस मनाने के लिए सैकड़ों भारतीय समुदाय के लोग भारतीय काउंसलेट पर इकट्ठे हुए. झंडा फहराने के बाद इन लोगों ने हाथों में तख्तियां और तिरंगा झंडा लेकर सीएए के समर्थन में जुलूस निकाला. भारतीय समुदाय के लोग हाथों में तख्तियां लिए थे उन पर लिखा हुआ था, ”भारत के संविधान और वंदे मातरम का सम्मान करो.” यह लोग लगातार नारे लगा रहे थे और यह नारा धारा 370 हटाने को लेकर था. नारे में कहा जा रहा था ”कश्मीर तो अभी झांकी है पीओके बाकी है”.

इसके अलावा हाथों में जो तख्तियां लिखे हुए थे उसमें लिखा था, ”पाकिस्तान हिंदुओं और अन्य अल्पसंख्यकों का सामूहिक हत्याकांड बंद करे”. भारतीय समुदाय के लोगों ने सीएए के समर्थन में तकरीबन 1 घंटे तक प्रदर्शन किया. प्रदर्शन के दौरान भारतीय समुदाय के प्रमुख नेता दिनेश राजपुरोहित ने कहा “नागरिकता संशोधन कानून भारतीय संसद से पूर्ण बहुमत से पास हुआ है और इसके लिए पूर्णता वैधानिक को संवैधानिक प्रक्रिया का पालन किया गया है ऐसे में सभी भारतीयों को बिना किसी भ्रम या अफवाह में आए नागरिकता संशोधन कानून का पालन करना चाहिए.”

प्रदर्शन के दौरान ही भारतीय समुदाय ने विश्व समुदाय से मांग की कि वे नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जो भ्रम और अफवाह फैलाई जा रही है उस पर लगाम लगाए. भारतीय समुदाय ने यह बात यूरोपियन यूनियन कि संसद में कुछ सांसदों द्वारा नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ प्रस्ताव लाए जाने की कोशिशों के खिलाफ कहीं.

ऐसा ही एक प्रदर्शन स्कॉटलैंड के एडिनबर्ग में भी हुआ एडिनबर्ग में उस प्रदर्शन में लंदन में पाकिस्तान और खालिस्तानियो द्वारा किए जा रहे हैं भारत विरोधी प्रदर्शनों की निंदा भी की गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.