कोरोनावायरस : बांग्लादेश में चीन से आए 2000 लोगों की जांच

0
172

ढाका, बांग्लादेश में अधिकारियों ने चीन से आए 2000 यात्रियों की कोरोनावायरस संक्रमण जांच कराई है। इस वायरस से एशिया में अब तक 80 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि इस जांच में किसी के भी कोरोनावायरस से ग्रसित होने की पुष्टि नहीं हुई। दुनियाभर के अन्य देशों की तरह बांग्लादेश भी चीन से आने वाले यात्रियों की एयरपोर्ट पर 21 जनवरी से जांच कर रहा है।

स्वास्थ्य मंत्री जाहिद मालेक ने रविवार को बीडी न्यूज 24 डॉट कॉम से कहा कि स्थल बंदरगाह और समुद्री बंदरगाह पर भी यात्रियों की जांच की जा रही है।

उन्होंने आगे कहा, “हमने इन बंदरगाहों पर कार्यबल को मजबूत कर दिया है। हम किसी भी तरह के कोरोनावायरस को डिटेक्ट करने में सक्षम हैं।”

ढाका के शाहजलाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हेल्थ ऑफिसर मोहम्मद शहरीर सज्जाद ने कहा कि रविवार तक उन्होंने चीन से आने वाले कुल 2190 यात्रियों की जांच की है।

जहांगीरनगर विश्वविद्यालय में जूलोजी पढ़ाने वाले कबीरुल बशर ने कहा, “अगर देश में कोई भी नया वायरस किसी संक्रमित व्यक्ति या जानवर से देश में प्रवेश करता है तो घनी आबादी ने बांग्लादेश को पहले ही उसके प्रकोप के लिए कमजोर बना दिया है।”

उन्होंने आगे कहा, “जानवरों की सीमा नहीं होती है। कोई भी किसी संक्रमित जानवर को सीमा पार करने से नहीं रोक सकता। वहीं खजूर के रस का मौसम आने वाला है। यह वायरस चमगादड़ों द्वारा खजूर का रस पीकर फैलाया जा सकता है।”

उन्होंने आगे कहा, “इसके अलावा हमारे देश में लोग स्वच्छता का ध्यान नहीं रखते हैं। वह सड़क पर कहीं भी थूक देते हैं।”

वहीं बंगबंधु शेख मुजीब मेडिकल यूनिवर्सिटी के मेडिसिन विभाग के पूर्व डीन प्रो. एबीएम अब्दुल्लाह ने कहा, “इसकी रोकथाम बेहद जरूरी है, क्योंकि इस नए वायरस को खत्म करने के लिए किसी तरह के वैक्सीन और उपचार के बारे में अभी तक जानकारी नहीं मिली है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.