नई दिल्ली: सूचना क्रांति के बाद भारत में मोबाइल ग्राहकों की संख्या लगातार बढ़ रही है. अब उनकी पसंद फीचर फोन से बढ़कर स्मार्टफोन तक पहुंच गयी है. स्मार्टफोन की लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि 50 करोड़ से ज्यादा लोगों के हाथों में पहुंच गया है. ये सब हुआ है 4G पहुंच और सस्ते डाटा की वजह से. आने वाले दिनों में फीचर फोन से स्मार्टफोन पर शिफ्ट होने वालों की संख्या में और इजाफा होने की उम्मीद जताई जा रही है.

स्मार्टफोन की संख्या 50 करोड़ पार

एक रिपोर्ट के मुताबिक 2018 की तुलना में स्मार्टफोन की खरीदारी में 15 फीसद की बढ़ोतरी हुई है. मार्केट रिसर्च फर्म टेकएआरसी ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि शाओमी और रीयलमी ब्रांड आने के बाद बाजार में नये ग्राहक स्मार्टफोन से जुड़ते जा रहे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक 2019 के दिसंबर महीने तक भारत में 2 मीलियन लोग स्मार्टफोन रखते थे. सैमसंग की बिक्री बाजार में हिस्सेदारी के मामले में सबसे ज्यादा थी. उसकी हिस्सेदारी 34 फीसद, शाओमी 20 फीसद, वीवो 11 फीसद जबकि ओप्पो की 9 फीसद थी.

बाजार में जारी रहेगा बिक्री में इजाफा

कंपनी के संस्थापक फैसल कउसा का कहना है कि कुछ सालों से फीचर फोन से स्मार्टफोन की तरफ शिफ्ट होने की रफ्तार धीमी थी मगर अब ऐसी बात नहीं है. 50 करोड़ की संख्या को देख कर लग रहा है कि बाजार का अभी और विस्तार होनवाला है. उन्होंने बताया कि ग्राहकों के पास बाजार में 5000 रुपये में स्मार्टफोन खरीदने का विकल्प रहता है. मगर ग्राहक आम तौर पर इससे ज्याजा कीमत का स्मार्टफोन खरीदना पसंद करते हैं. 2019 में रीयलमी ने अपने ग्राहकों में 49 फीसद का इजाफा किया जबकि वीवो 44 फीसद और वनप्लस ने 41 फीसद की बढ़ोतरी की. दूसरे अन्य ब्रांड जैसे सैमसंग, शाओमी और ओप्पो की वृद्धि 9 फीसद, 25 फीसद और 36 फीसद की हुई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.