जामिया-मार्च गोलीकांड : देसी पिस्तौल से फायरिंग, जामा मस्जिद पर पुलिस बढ़ाई

0
136

नई दिल्ली, जामिया-मार्च में पुलिस की मौजूदगी में खुलेआम हवा में हथियार लहरा कर गोली चलाने वाले युवक ने गोली चलाने से पहले पिस्तौल को रूमाल से पकड़ा हुआ था। यह सनसनीखेज तथ्य वीडियो में साफ साफ दिखाई दे रहा है। मौके पर मौजूद एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, चूंकि हमलावर ने रूमाल से पिस्तौल पकड़ा हुआ था, इससे उसकी बुरी मंशा साफ जाहिर होती है।

पुलिस की मौजूदगी में अचानक गोली चलने से हड़बड़ाए और मौके पर मौजूद दक्षिण-पूर्वी दिल्ली जिले के डीसीपी चिन्मय बिस्वास मीडिया से काफी देर तक यही कहते देखे-सुने जाते रहे कि, “अभी थाना और जिला सीमा का ठीक-ठीक नहीं पता चला है। आरोपी को पकड़ लिया गया है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है। एक छात्र गोली लगने से घायल हो गया है। उसकी हालत खतरे से बाहर है।”

डीसीपी ने आईएएनएस से कहा, “गोली देसी तमंचे से चलाई गई है। आरोपी ने वैमनस्य फैलाने वाले नारे भी लगाए थे।” उधर मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, “गोली चलाने वाले ने साफ साफ चीख कर कहा, ‘लो ले तुम अब आजादी’ इसके बाद उसने गोली चला दी। गोली छात्रों की भीड़ की ओर पिस्तौल करके चलाई गई थी।’

गोली लगने से घायल युवक को तुरंत प्राइवेट अस्पताल में दाखिल कराया गया है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, ‘गोली चलाने वाले ने ‘वंदे मातरम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे भी लगाए।’

दूसरी ओर इस घटना से हड़बड़ाई दिल्ली पुलिस ने आनन-फानन में मध्य दिल्ली स्थित जामा मस्जिद पर अतिरिक्त पुलिस बल बढ़ा दिया। क्योंकि इस मार्च को जामा मस्जिद पर ही पहुंचना था। जामा मस्जिद से इकट्ठे होकर भीड़ को राजघाट की ओर बढ़ना था। हालांकि पुलिस ने मार्च को राजघाट की ओर जाने की अनुमति देने से साफ इंकार कर दिया था। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.