चंडीगढ़ पुलिस के हेड कॉन्सटेबल भूपिंदर ने गाकर समझाए ट्रैफिक नियम, लोग झूमे भी और नियम भी सीखे

0
158

ऑटो डेस्क. 15वां ऑटो एक्सपो 2020 इलेक्ट्रिक व्हीकल के नाम रहा। महिंद्रा, मारुति, हुंडई जैसी कंपनियों ने अपनी फ्यूचर इलेक्ट्रिक कार दिखाई। तो दूसरी तरफ, चाइनीज कार कंपनियों ने भी भारतीय बाजार में एंट्री की। इसे इवेंट के कुछ लम्हें ऐसे भी रहे, जिन्होंने लोगों ने कुछ सिखाया और एंटरटेनमेंट भी किया। ऐसा ही एक लम्हा था चंडीगढ़ पुलिस के हेड कॉन्सटेबल भूपिंदर सिंह से जुड़ा हुआ भी रहा।

गाने गाकर लोगों को ट्रैफिक नियम समझाए

एक्सपो के हॉल नंबर 14 के बाहर भूपिंदर एक स्टेज पर खड़े होकर दलेर मेंहदी का ‘हो गई तू बल्ले-बल्ले’ गाना गा रहे थे। उन्हें सुनने के लिए भीड़ जमा था। हालांकि, जब उस गाने को हमने गौर सुना तो उसके बोल पूरी तरह अलग थे। वे इस गाने में ट्रैफिक नियम को फॉलो करने, हेलमेट और सीट बेल्ट पहनने के साथ उनके फायदे और नुकसान बता रहे थे। अच्छी बात थी कि सभी लोग एंटरटेन हो रहे थे।

ऐसे अनोखे गाने के बारे में जब हमने भूपिंदर से बात की तब उन्होंने बताया कि एसएसपी साहब के साथ मिलकर वे ऐसे गाने बनाते हैं जो लोगों को ट्रैफिक नियम के प्रति जागरुक करें। इन गानों को वे अलग-अलग स्टेज पर गाकर लोगों का मनोरंजन करते हैं। उन्हें लोगों का अच्छा रिस्पॉन्स मिलता है। लोग ट्रैफिक नियम सीख रहे हैं और उन्हें फॉलो भी कर रहे हैं। उनका एक गाना ‘बिना गल तो हॉर्न क्यूं बजाए…’ वायरल हुआ था, जिसके बाद चंडीगढ़ के लोग ट्रैफिक में खड़े होकर हॉर्न नहीं बजाते। बता दें कि भूपिंदर गुरदासपुर, पंजाब के रहने वाले हैं। वे 1987 में चंडीगढ़ पुलिस में भर्ती हुए थे।

यूट्यूब पर हैं कई गाने

भूपिंदर सिंह का यूट्यूब चैनल भी है, जिसका नाम Bhupinder Singh Chandigarh police traffic है। करीब 2500 यूजर्स उनके सब्सक्राइबर्स भी हैं। उन्होंने 27 मई, 2017 को अपना चैनल बनाया था। जिसके बाद से वे अब तक इस पर 74 वीडियो अपलोड कर चुके हैं।

लोगों ने अपने अनुभव भी शेयर किए

ऑटो एक्सपो में भूपिंदर सिंह का गाना खत्म होने के बाद कुछ लोगों ने अपने एक्सीडेंट से जुड़े अनुभव भी शेयर किए। एक ने बताया कि जब उसका एक्सीडेंट हुआ था तब वो ट्रक के नीचे चला गया था। हालांकि, उसने अच्छी क्वालिटी का हेलमेट पहना था तो उसके सिर में चोट नहीं लगी। इसी वजह से वो आज जिंदा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.