मुख्यमंत्री गहलोत गुरुवार को पेश करेंगे राज्य का बजट, किसानों, महिलाओं व युवाओं पर रहेगा विशेष जोर!

0
99

जयपुर। राज्य की गहलोत सरकार गुरुवर को राज्य का आम बजट पेश करेगी। विधानसभा में सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत वित्त मंत्री के तौर पर सरकार का पहला पूर्णकालिक आजम बजट पेश करेंगे।

मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री कार्यालय में वित्त विभाग के अधिकारियों के साथ बजट को अंतिम रूप दिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री के साथ वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव निरंजन आर्य, वित्त विभाग के शासन सचिव हेमंत गेरा, डा. पृथ्वीराज, सुधीर शर्मा और बजट निदेशक शरद मेहरा भी मौजूद थे।

गुरुवार को बजट के कारण विधानसभा में प्रश्नकाल और शून्य काल नहीं होगा। सरकार के बजट से जनता को खासी उम्मीदें हैं। इस बार राजस्थान के बजट में युवा बिजनेसमैन, चिकित्सा और शिक्षा पर खास फोकस रहने की संभावना है।

मुख्यमंत्री ने कुछ दिन पहले युवा बिजनेसमैन और विभिन्न सामाजिक संगठनों के साथ चर्चा भी की थी। वहीं गहलोत पहले ही बोल चुके हैं कि राज्य सरकार का प्रयास है कि जन कल्याणकारी बजट तैयार किया जाए जिसमें सामाजिक संगठनों के महत्त्वपूर्ण सुझाव शामिल किए जाएंगे ताकि हर वर्ग तक बजट का लाभ वास्तविक रूप में पहुंच सके। प्रदेश का आर्थिक वातावरण और बेहतर बन सके इसके लिए आगामी बजट में उचित प्रावधान करने का प्रयास किया जाएगा।

पिछले बजट में क्या रहा था खास

पिछले साल 2019-2020 के बजट में मुख्यमंत्री गहलोत ने 11 नई योजनाओं की घोषणा की थी। कुल 2.32 लाख करोड़ रुपए के बजट में किसान, युवा और महिलाओं पर फोकस रहा था। किसानों के लिए 1 हजार करोड़ के कृषक कल्याण कोष की घोषणा की गई थी।

वहीं महिलाओं के लिए 1 हजार करोड़ रुपए का प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला शक्ति निधि फंड बनाया गया था। युवाओं के लिए 75 हजार नौकरियां देने और युवा रोजगार योजना के लिए 5 साल में एक हजार करोड़ रुपए देने का वादा किया गया था। इसके साथ निशुल्क दवा योजना में 14 नई दवाएं शामिल करने और मोहल्लों में जनता क्लिनिक खोलने की घोषणा की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.