वारिस पठान के बयान पर भड़के MNS नेता, कहा- ‘15 करोड़ मुसलमान तुम्हारे बाप हैं क्या, कहीं भी दिखाई नहीं दोगे’

0
1011

मुंबई: राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के नेता बाला नंदगांवकर ने एआईएमआईएम नेता वारिस पठान के ‘दस करोड़ बनाम सौ करोड़’ वाले बयान पर पलटवार किया है. बाला नंदगांवकर ने कहा है कि इस देश के मुसलमान यहां की मिट्टी से प्यार करते हैं. उन्होंने पूछा, ‘’आप जिन 15 करोड़ बांग्लादेशी और पाकिस्तानी मुसलमानों की बात कर रहे हैं, वह आपके बाप हैं क्या?’’

बाला नंदगांवकर ने क्या कहा ?

बाला नंदगांवकर ने कहा, ‘’वारिस पठान जी आप गलती से विधायक बन गए थे. ये ‘15 करोड़ मुस्लिम 100 करोड़ लोगों पर भारी पड़ेंगे’ वाला बयान जो आपने दिया है न, हिंदुस्तान के मुसलमान इस मिट्टी से प्यार करने वाले हैं. वो हमारे हैं. और आप जिन बांग्लादेशी और पाकिस्तानी मुसलमानों के बारे में बात कर रहे हैं, वो आपके बाप हैं क्या? ये 15 करोड़ मुसलमान कौन हैं तुम्हारे? इसके बाद कभी ऐसा बात करेंगे न तो बाईकला में क्या कहीं भी दिखाई नहीं दोगे. फिर जाकर रहना पड़ेगा ओवैसी के पास हैदराबाद में.’’

बीजेपी नेता ने कहा- हो जाए आर-पार की लड़ाई

वहीं, इससे पहले वारिस पठान के बयान के जवाब में विधायक राजा सिंह ने शाहीन बाग की महिलाओं को अपशब्द भी कहे. उन्होंने कहा, ‘’वारिस पठान पहले तेरी बहनों को संभाल, जो 500 रूपए लेकर शाहीन बाग में बैठी हैं. बाद में हम हिंदुओं से टकराना. हम तो तैयार हैं. कितने आते आ जाओ. हो जाए आर पार की लड़ाई.’’

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए)के खिलाफ प्रदर्शनों के बीच एआईएमआईएम नेता वारिस पठान ने उत्तरी कर्नाटक के कलबुर्गी में सीएए विरोधी रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि 15 करोड़ मुस्लिम 100 करोड़ लोगों पर भारी पड़ सकते हैं. उनके इस बयान का वीडियो वायरल होते ही विवाद खड़ा हो गया.

वायरल वीडियो में क्या कह रहे हैं वारिस पठान?

वारिस पठान को हिंदी में यह बोलते हुए सुना जा सकता है, ‘‘हमें साथ चलना होगा. हमें आजादी लेनी होगी. जो चीजें मांगने से नहीं मिलती, हमें छीननी होगी.अब वक्त आ गया है. हमको बोला कि मां-बहनों को आगे भेज दिया और खुद कंबल में बैठ गये. अभी तो सिर्फ शेरनियां बाहर निकली हैं और तुम्हारे पसीने छूट गए. समझ लो, हम लोग साथ आ गए तो क्या होगा. 15 करोड़ हैं, लेकिन 100 करोड़ पर भारी हैं. याद रख लेना यह बात.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.