नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में हिंसा के बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के भारत दौरे का आज आखिरी दिन है. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के बीच द्विपक्षीय बातचीत हुई. इस दौरान दोनों देशों के बीच कई अहम समझौते हुए. मेंटल हेल्थ को लेकर दोनों देशों में भी करार हुआ. इस दौरान दोनों देशों के बीच तीन अरब के रक्षा उपकरणों पर सहमति बनी. इसके साथ ही मेडिकल प्रोडक्ट सेफ्टी को लेकर भी दोनों देशों के बीच करार हुआ.

द्विपक्षीय वार्ता की जानकारी देने के लिए दोनों नेताओं ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत और अमेरिका के संबंध 21वीं सदी की सबसे महत्वपूर्ण साझेदारी है. वहीं राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि भारत में हमारा शानदार स्वागत हुआ. इसे मैं हमेशा याद रखूंगा.

क्या बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ”राष्ट्रपति ट्रम्प और उनके डेलीगेशन का भारत में एक बार फिर हार्दिक स्वागत है. मुझे विशेष खुशी है की इस यात्रा पर वो अपने परिवार के साथ आए हैं. पिछले 8 महीनों में राष्ट्रपति ट्रंप से ये मेरी पांचवी मुलाकात है. ट्रंप का ऐतिहासिक स्वागत याद रखा जाएगा.’’ मोदी ने बताया कि ट्रंप और मैंने हर मुद्दे पर बातचीत की है. भारत और अमेरिका के संबंध 21वीं सदी की सबसे महत्वपुर्ण साझेदारी है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”तेल और गैस के लिए अमेरिका भारत का एक महत्वपूर्ण स्रोत बन गया है. पिछले 4 वर्षों में हमारा कुल ऊर्जा व्यापार करीब 20 बिलियन डॉलर रहा है. इंडस्ट्री 4.0 और 21वीं सदी की अन्य उभरती टेक्नालजी पर भी इंडिया-US पार्टनरशिप, इनोवेशन और एंटरप्राइज के नए मुकाम स्थापित कर रही है.”

उन्होंने कहा, ”वैश्विक स्तर पर भारत और अमरीका का सहयोग हमारे समान लोकतांत्रिक मूल्यों और उद्देश्यों पर आधारित है. विशेषकर Indo-Pacific और ग्लोबल कॉमन में रूल बेस्ड्स इंटरनेशनल ऑर्डर के लिए यह सहयोग विशेष महत्व रखता है. मेंटल हैल्थ मामले में भारत और अमेरिका के बीच करार हुआ है. ट्रंप और मैंने हर पहलु पर सकारात्मक बातचीत की है. दोनों देश ड्रग तस्करी से लड़ने के लिए प्रतिबंद्ध हैं.”

द्विपक्षीय वार्ता के बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने क्या कहा?

अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारत में अपने शानदार स्वागत के लिए धन्यवाद कहा. उन्होंने कहा, ”भारत में हमारा शानदार स्वागत हुआ. इसे हम हमेशा याद रखेंगे. हम यहां से सुखद अनुभव साथ लेकर जाएंगे.भारत के साथ तीन अरब के सुरक्षा उपकरणों पर सहमति बनी है. पाकिस्तान अपनी धरती पर पनप रहे आतंकवाद को खत्म करने के उपाय करे. इसके लिए अमेरिका की ओर से भी प्रयास किए जा रहे हैं.”

राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, ”भारत और अमेरिका के मूल्य एक जैसे हैं. दुनिया सुरक्षित बने, ऐसे उपाय होने चाहिए. देशों के बीच दबाव की राजनीति न हो, ऐसी कोशिश होनी चाहिए. 60 फीसदी भारत का निर्यात अमेरिका से बढ़ा है. ये दौरा दोनों देशों के लिए बहुत अच्छा रहा है. हम भारत का स्वागत देखकर हैरान रह गए.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.