अमेरिका में डाउ जोन्स के इतिहास में एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट, सेंसेक्स भी 1121 अंक नीचे आया

0
150

वॉशिंगटन. कोरोनावायरस संक्रमण बढ़ने की आशंका से दुनियाभर के बाजारों में चिंता देखने को मिल रही है। शुक्रवार को बाजार खुलते ही सेंसेक्स में 1,000 अंकों से ज्यादा गिरावट देखने को मिली। सेंसेक्स 1,121.98 अंक नीचे गिरकर 38,624.64 अंकों पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह निफ्टी 297.55 अंक नीचे पहुंच गया। निफ्टी 11,333.75 अंकों पर कारोबार कर रहा था। निफ्टी में टेक महिंद्रा, टाटा मोटर्स, बजाज फाइनेंस, टाटा स्टील, जेएसडब्ल्यू स्टील में 4 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिल रही है।

कारोबार शुरू होने के 5 मिनट में निवेशकों के 4 लाख करोड़ डूबे
शुक्रवार को ट्रेडिंग शुरू होते ही बाजार तेजी से नीचे गिरा। इससे बीएसई की मार्केट कैपटीलाइजेशन में करीब 4 लाख करोड़ की कमी आई। एमकैप 150 लाख करोड़ से नीचे आ गया। यह लगातार छठा दिन है जब बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है। इन छह दिनों में निवेशकों को करीब 10 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। 


एसएंडपी 4.4% नीचे, डाउ जोन्स में 1,200 अंकों की गिरावट
बिकवाली के कारण अमेरिकी बाजार में एसएंडपी 4.4% नीचे गिर गया। यह 2011 के बाद इसकी सबसे बड़ी गिरावट है।  इसी तरह, डाउ जोन्स के औद्योगिक औसत में करीब 1,200 अंकों की गिरावट आई है। एक हफ्ते पहले एसएंडपी अपने उच्चतम स्तर पर था। सात दिन में एसएंडपी 12% से ज्यादा नीचे गिर चुका है। विशेषज्ञों के अनुसार, स्टॉक्स और गिरे तो यह अक्टूबर 2008 के समय आई मंदी के बराबर पहुंच जाएंगे।


डाउ जोन्स की एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट
डाउ जोन्स में 1,190.95 अंकों की गिरावट देखने को मिली। यह डाउ जोन्स के इतिहास की एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट है। इस हफ्ते डाउ जोन्स में 3,225.77 अंक करीब 11.1% की गिरावट आ चुकी है। यूएस-चीन ट्रेड वॉर में नरमी आने के कारण निवेशकों को उम्मीद थी कि वैश्विक अर्थव्यवस्था जल्दी पटरी पर लौट आएगी, लेकिन कोरोनावायरस का संक्रमण बढ़ने के कारण चीन में फैक्ट्रियों को बंद कर दिया गया है। चीन से आपूर्ति बाधित होने के कारण दुनिया के कई देशों में उत्पादन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। कोरोनावायरस के चीन के अलावा दूसरे देशों में फैलने से निवेशकों का सेंटीमेंट बुरी तरह प्रभावित हो रहा है।  

क्रूड ऑयल 4% से ज्यादा गिरा
वैश्विक बाजारों में क्रूड ऑयल का भाव चार प्रतिशत से अधिक लुढ़क गया। कारोबारियों को आशंका है कि कोरोना वायरस का असर कच्चे तेल की मांग पर पड़ रहा है। अप्रैल डिलिवरी के लिए ब्रेंट क्रूड ऑयल का भाव 4.2 प्रतिशत लुढ़ककर 51.20 डॉलर प्रति बैरल जबकि न्यूयार्क का डब्ल्यूटीआई (वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट) क्रूड ऑयल का भाव इस महीने के लिए करीब 5 प्रतिशत टूटकर 46.31 डॉलर पर आ गया। 

दुनिया भर के शेयर बाजारों में गिरावट

शेयर बाजारगिरावट अंकों मेंबदलाव % में
नैस्डैक4144.61%
निक्केई8034.02%
एफटीएसई2463.49%
शंघाई कंपोजिट100.773.37%
डीएएक्स4073.19%
हैंगशेंग6702.50

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.