1500 जवानों के लिए क्वारेंटाइन सेंटर बनाएगी आर्मी, विदेश से आने वाले यात्रियों की अब 30 एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग

0
78

नई दिल्ली. कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए भारतीय सेना ने भी अफसरों को निर्देश जारी किए हैं। मिलिट्री अस्पतालों को भी आइसोलेशन वार्ड बनाने को कहा गया है। आर्मी ने यह भी कहा कि 1500 जवानों के लिए क्वारेंटाइन (अलग-थलग) फैसिलिटी तैयार की जाएगी। इस बीच, सरकार ने साफ किया है कि विदेश से आने वाले यात्रियों की 9 और एयरपोर्ट्स पर स्क्रीनिंग की जा सकेगी। लिहाजा ऐसे एयरपोर्ट्स की संख्या 21 से बढ़कर 30 हो गई है।

भारत में कोरोनावायरस से 31 लोग संक्रमित हैं। दिल्ली में शुक्रवार को एक और मरीज में संक्रमण की पुष्टि हुई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि संक्रमित व्यक्ति थाईलैंड और मलेशिया की यात्रा कर चुका है। व्यक्ति दिल्ली में उत्तम नगर का रहने वाला है। कोरोनावायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार के सभी दफ्तरों में कर्मचारियों के 31 मार्च तक बायोमीट्रिक अटेंडेंस पर रोक लगा दी गई है। सभी कर्मचारी रजिस्टर में अपना अटेंडेंस बनाएंगे। वहीं, कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने कैंपस में किसी भी बड़ी सभा से बचने का निर्देश दिया है। साथ ही सलाह दी है कि वायरस से प्रभावित देशों में 28 दिनों के भीतर यात्रा करने वालों छात्रों और कर्मचारियों को 14 दिनों के लिए क्वारैंटाइन (अलग-थलग) किया जाए।

भारतीयों को लाने के लिए ईरान से बातचीत

कोरोनावायरस की वजह से ईरान में फंसे अपने लोगों को वापस लाने के लिए भारत सरकार ईरान के अधिकारियों से बातचीत कर रही है। उन्होंने कहा कि ईरान में मौजूद 300 भारतीयों के सैंपल शुक्रवार रात तक भारत लाए जा सकते हैं। इन लोगों के संक्रमित होने की आशंका है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव अरुण कुमार ने कहा कि ईरान की महा एयरवेज की फ्लाइट दिल्ली आएगी और यहां से वापसी में ईरान के नागरिकों को ले जाएगी।

राजस्थान के लोगों की रिपोर्ट निगेटिव

वहीं, इटली से भारत घूमने आए 26 लोगों के दल के संपर्क में आने वाले राजस्थान के 247 नागरिकों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। इनमें 16 नागरिक और उनका ड्राइवर संक्रमित पाए गए थे।इटली के इस दल में 23 विदेशी पर्यटक, एक ड्राइवर, एक हेल्पर और एक गाइड शामिल है। यह दल 21 फरवरी को सबसे पहले झुंझुनूं पहुंचा था। जहां होटल कैसल मंडावा में ठहरा था। इसके बाद 22 को बीकानेर के होटल गजकेसरी में ठहरा। 23 और 24 को जैसलमेर के होटल रंगमहल में एक रात रुका। यहां से दल जोधपुर आ गया और होटल पार्क में रुका। इसके बाद 26 को उदयपुर पहुंचा और वहां होटल ट्राइडेंट में रुका। 28 फरवरी को यह दल उदयपुर से जयपुर आया।

सशस्त्र पुलिस बल ने होली मिलन समारोह रद्द किया

उधर, कोरोनोवायरस के कारण सभी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल ने होली मिलन समारोह रद्द कर दिया है। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने भी अगले सप्ताह होने वाला स्थापना दिवस कार्यक्रम स्थगित कर दिया है।

ईरान में फंसे मछुआरे स्वस्थ: केंद्रीय राज्यमंत्री

राज्यमंत्री वी मुरलीधरण ने गुरुवार को कहा कि ईरान में फंसे भारतीय मछुआरों का स्वास्थ्य बेहतर हैं। उनकी आधारभूत जरूरतों का खयाल रखा जा रहा है। दूतावास उनके संपर्क में है।

आईफा अवार्ड स्थगित

कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए मध्यप्रदेश में होने वाले 21वें इंटरनेशनल इंडियन फिल्म अकेडमी अवॉर्ड (आईफा) को फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। प्रोग्राम के आयोजकों ने इस बात की जानकारी शुक्रवार को दी। इस इवेंट के लिए नई तारीखों की घोषणा जल्द ही की जाएगी। इसका आयोजन इंदौर में 27 से 29 मार्च के बीच होना था।

इंदौर में 2 नए संदिग्ध

इंदौर में कोरोनावायरस के दो नए संदिग्ध मरीज सामने आए। पहला संदिग्ध 23 वर्षीय युवक है, जो दुबई से लौटा है। दूसरी मरीज इटली की 23 वर्षीय युवती है। वह गुरुवार को ही यहां आई। उसे जांच के लिए एमवायएच अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, शिक्षा विभाग ने परीक्षा देने वाले छात्रों को अलग बैठाने की गाइडलाइन जारी की है। साथ ही इंदौर-दुबई फ्लाइट की बुकिंग भी 30% तक घट गई है।

बिहार के लोगों को डरने की जरूरत नहीं: नीतीश

बिहार में अब तक संक्रमण का कोई मामला सामने नहीं आया है। मुख्यमंत्री नीतिश कुमार ने गुरुवार को कहा कि लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। इससे बचाव के लिए सरकार पर्याप्त उपाय कर रही है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे बोधगया जैसे पर्यटक स्थलों और भारत-नेपाल सीमा पर पर्यटकों के आगमन पर करीबी नजर रखें। बोधगया में बड़ी संख्या में चीन से बौद्ध श्रद्धालु पहुंचते हैं। चीन में बड़ी संख्या में बौद्ध धर्म के लोग रहते हैं। इसी तरह नेपाल और बिहार की सीमा पर भी चीन और अन्य देशों के यात्री आते रहते हैं।

देश के 6 शहरों में मिले 31 कोरोनावायरस संक्रमित

केरल के 3 मरीज : ये चीन के वुहान से लौटे थे। इनमें फरवरी में संक्रमण की पुष्टि हुई थी। अब ये पूरी तरह ठीक हो चुके हैं।
दिल्ली के 2 मरीज : पहला मरीज इटली से भारत लौटा था। जबकि दूसरा मरीज मलेशिया और थाईलैंड से आया था। दोनों का इलाज किया जा रहा है।
आगरा के 6 मरीज : इटली से दिल्ली लौटा संक्रमित व्यक्ति आगरा में अपने 6 रिश्तेदारों से मिला। इसलिए ये संक्रमित हुए।
तेलंगाना का 1 मरीज : ये भी इटली से लौटा था। इसके संपर्क में आए 88 मरीजों को निगरानी में रखा गया।
जयपुर के 17 मरीज : इनमें से 16 मरीज इटली से आए थे और राजस्थान के 6 जिलों में 8 दिन तक घूमे थे। एक भारतीय ड्राइवर इनके साथ था, जो इन्हें अलग-अलग जगहों पर लेकर गया था। इस तरह कुल 17 लोगों में कोरोनावायरस की पुष्टि हुई है। इनका दिल्ली में आईटीबीपी कैम्प में इलाज चल रहा है। इनमें से एक मरीज जयपुर के जिस अस्पताल के आईसीयू में भर्ती था, वहां 60 अन्य मरीज भी थे। इन मरीजों को भी संक्रमण हो सकने के खतरे की वजह से अलग रखा गया है और निगरानी की जा रही है।
गुड़गांव का 1 मरीज : पेटीएम कंपनी का एक कर्मचारी संक्रमित पाया गया।
उत्तर प्रदेश में 1 मरीज: गाजियाबाद में एक कारोबारी में पुष्टि हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.