वर्ल्ड कप हार के बाद हरमनप्रीत कौर ने किया शेफाली वर्मा का समर्थन, कहा- ‘अभी वो सिर्फ 16 साल की हैं’

0
86

नई दिल्ली: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच कल हुए आईसीसी महिला टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल मुकाबले में टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया ने 85 रनों से बड़ी मात दी. इसी के साथ अब ऑस्ट्रेलिया ने वर्ल्ड टी20 खिताब पर 5वीं बार कब्जा कर लिया है. भारत की तरफ से पूरे टूर्नामेंट में चलने वाली 16 साल की ओपनर बल्लेबाज शेफाली वर्मा फाइनल मुकाबले में मात्र 2 रन बनाकर आउट हो गईं. वहीं उन्होंने मैच के शुरूआत में एलिसा हिली का भी कैच छोड़ा जो बाद में भारत को काफी महंगा साबित हुआ. हिली 75 रन बनाकर आउट हुईं थी.

इसी पर अब भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा है कि शेफाली वर्मा ने जब एलिसा हिली का कैच छोड़ा तो उन्हें मैच में वापसी करने में काफी मुश्किल हो रही थी. ऐसे में कप्तान ने कहा कि हिली का कैच छोड़ने में शेफाली की कोई गलती नहीं थी.

भारत अपना पहला वर्ल्ड कप फाइनल मुकाबला खेल रहा था जहां एलिसा हिली के 75 और बेथ मूनू के 78 नॉट आउट पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने 185 रनों के लक्ष्य रखा था. इस स्कोर को चेस करने में टीम इंडिया पूरी तरह से फेल रही और पूरी टीम मात्र 99 रनों पर ही ऑल आउट हो गई.

हरमनप्रीत ने शेफाली को लेकर कहा कि, ”वो सिर्फ अभी 16 साल की हैं और अपना पहला वर्ल्ड कप खेल रहीं हैं. उन्होंने काफी बेहतरीन प्रदर्शन किया है. 16 साल की लड़की के लिए पूरे मैच में आत्मविश्वास से भरा रहना थोड़ा मुश्किल होता है. ये उनके लिए सीख थी कि आपके साथ मैच के बीच कुछ भी हो सकता है. हम उन्हें इसके लिए जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते क्योंकि उनकी जगह पर दूसरी खिलाड़ी भी थीं. हमने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को मौका दिया जिसका हमें नुकसान हुआ. दबाव में हम नहीं खेल पाए. ऐसे में ये सबके लिए एक सीख है कि जब आप फील्डिंग कर रहे होते हैं तो आपको मैदान पर अपना 100 प्रतिशत देना होता है.”

बता दें कि टीम इंडिया ने ये टूर्नामेंट ज्यादातर युवा खिलाड़ियों के साथ खेला और अंत में टीम फाइनल में भी पहुंची.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.