Coronavirus से दहशत में पूरी दुनिया, भारत में एक मौत, जानें देश-विदेश में हाल कितना बुरा है

0
103

नई दिल्ली: दुनियाभर में कोरोना वायरस चिंता का विषय बना हुआ है. चीन के वुहान से शुरू हुआ कोरोना वायरस भारत में भी कहर बरपा रहा है. कोरोना वायरस का असर विदेशों के साथ देश में भी लगातार बढ़ता जा रहा है. इसकी वजह से देश में पहली मौत हो चुकी है और अब इससे प्रभावितों की संख्या 75 हो गई है. शेयर बाजार हो या खेल. राजनीति हो या बॉलीवुड. हर क्षेत्र में कोरोना वायरस ने दहशत पैदा कर दी है. देश और दुनिया में कोरोना फैलने से क्या हैं हालात. जानिए बड़ी बातें.

भारत में पहली मौत

कोरोना से भारत में पहली मौत का मामला सामने आये है. कर्नाटक के कलबुर्गी में कोरोना ने 76 साल के बुजुर्ग की जान ली है. 10 मार्च को ही मोहम्मद हुसैन सिद्दीकी नाम के बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया था. दो दिन बाद जब ब्लड रिपोर्ट आई तो पता चला कि वो कोरोना से पीड़ित थे. भारत में 75 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं.

हाई कोर्ट से कोरोना से निपटने में दखल देने का अनुरोध

दिल्ली हाई कोर्ट में आज एक याचिका दायर कर कोरोना वायरस से निपटने में उससे ‘‘दखल’’ देने का अनुरोध किया गया है. मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और न्यायमूर्ति सी. हरि शंकर की पीठ के समक्ष याचिका पेश की गई. इस पर 16 मार्च को सुनवाई होगी. पीठ के समक्ष याचिका पेश करने वाले वकील ने कहा, ‘‘हमने कोरोना वायरस के संबंध में अदालतों से हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है.’’

ITBP केन्द्र में रखे गए सभी 112 लोगों में से किसी को कोरोना नहीं

आईटीबीपी के केन्द्र में अलग रखे गए सभी 112 लोगों में से कोई भी कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं पाया गया है और सभी को आज छुट्टी दी जा सकती है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इन सभी को पिछले महीने चीन के वुहान से लाया गया था. भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘ छावला में 14 दिन तक अलग रखे जाने के बाद 36 विदेशियों सहित सभी 112 लोगों में से कोई भी कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं मिला है.’’

सरकार की स्थिति पर नजर, हेल्पलाइन नंबर शुरू

केंद्रीय गृह मंत्रालय के मुताबिक, सरकार ने देश में कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार होने के मद्देनजर केंद्रीय हेल्पलाइन नंबर 011-23978046 शुरू किया है. इसके अलावा 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में भी हेल्पलाइन नंबर शुरू किए गए हैं. केन्द्र और राज्यों की सरकारें कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कमर कस रही हैं. इसी बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों से अपील की है कि वे घबराएं नहीं, सरकार स्थिति पर नजर रखे हुए है. आगामी दिनों में कोई केंद्रीय मंत्री विदेश की यात्रा नहीं करेंगे.

देश में कोरोना वायरस की चपेट में आए 75 लोग

कोरोना वायरस से संक्रमित 75 लोगों में 17 विदेशी नागरिक हैं. इनमें 16 इटली के हैं और कनाडा का एक नागरिक है. इन आंकड़ों में केरल के वे तीन मरीज भी शामिल हैं जिन्हें स्वस्थ होने के बाद पिछले महीने अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी. दिल्ली में कोरोना वायरस के 6 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि उत्तर प्रदेश में 10, कर्नाटक में 4, महाराष्ट्र में 11 और लद्दाख में तीन मामले सामने आए हैं. राजस्थान, तेलंगाना, तमिलनाडु, जम्मू-कश्मीर, पंजाब और आंध्र प्रदेश में एक-एक मामला सामने आया है.

1500 लोग कड़ी निगरानी में

संक्रमित लोगों के संपर्क में आए 1,500 लोगों को कड़ी निगरानी में रखा गया है, जबकि देशभर में 30,000 से अधिक लोग सामुदायिक निगरानी में हैं. रक्षा मंत्रालय ने कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों को पृथक रखने के लिए सात और केंद्रों की स्थापना की है और इनमें खासतौर पर कोरोना वायरस से प्रभावित देशों से आ रहे भारतीयों को रखा जाएगा. अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि ये केंद्र जैसलमेर, सूरतगढ़, झांसी, जोधपुर, देवलाली (नासिक, महाराष्ट्र), कोलकाता और चेन्नई में स्थापित किए गए हैं.

कनाडा के पीएम की पत्नी कोरोना से संक्रमित

महामारी का रूप ले चुके कोरोना वायरस के प्रकोप से दुनियाभर में आम लोगों के साथ-साथ खास लोग भी बच नहीं पा रहे हैं. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की पत्नी सोफी ग्रेगोइरे ट्रूडो भी इस जानलेवा विषाणु से संक्रमित पाई गई हैं. अधिकारियों ने कहा है, ‘’चिकित्सा परामर्श के बाद वह कुछ समय तक अलग रहेंगी. वह ठीक हैं और सभी तरह की एहतियात बरत रही हैं और उनके लक्षण हल्के हैं. पीएम का स्वास्थ्य ठीक है और उन्हें कोई लक्षण नहीं हैं. एहतियातन तौर पर और डॉक्टरों की सलाह के बाद उन्हें 14 दिनों के लिए अलग रखा जाएगा.’’

ब्राजील के राष्ट्रपति की भी की गई जांच, आ सकते हैं चपेट में

एक शीर्ष सहायक के कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो की भी जांच की गई है. बोलसोनारो के बेटे एडुआर्डो बोलसोनारो ने टि्वटर पर कहा, ‘‘राष्ट्रपति बोलसोनारो की कोरोना वायरस के लिए जांच की गई है और हम नतीजों का इंतजार कर रहे हैं। हालांकि अभी उनमें बीमारी के कोई लक्षण नहीं दिखे हैं.’’ इसके अलावा ईरान के प्रमुख नेता के एक मुख्य सलाहकार में कोरोना वायरस के ‘‘हल्के लक्षण’’ पाए जाने के बाद उन्हें अलग रखा गया है.

दुनिया भर में कम से कम 4,600 लोगों की मौत

इस वायरस के संक्रमण से अभी तक दुनिया भर में कम से कम 4,600 लोगों की मौत हुई है और करीब 1,25,293 लोगों में इसके संक्रमण की पुष्टि हुई है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है. इस बीच पुणे के राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) के वैज्ञानिक लगभग 11 आइसोलेट्स खोजने में सफल रहे हैं, लेकिन टीके को विकसित करने में कम से कम डेढ़ से दो साल लगेंगे.

त्तीसगढ़ में भी 31 मार्च तक स्कूल-कॉलेज बंद

दिल्ली, उत्तराखंड और मणिपुर सरकार की तर्ज पर छत्तीसगढ़ सरकार ने भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए राज्य में परीक्षाओं को छोड़कर स्कूल और कॉलेजों को 31 मार्च तक बंद करने का फैसला किया है. सीएम बघेल ने स्वास्थ्य विभाग को कोरोना वायरस से बचाव के लिए किए गए इंतजामों की नियमित समीक्षा और निगरानी करने का निर्देश दिया है. छत्तीसगढ़ में  कोरोना वायरस से निपटने के लिए राज्य सरकार ने पहले ही कार्यालयों में 31 मार्च तक बायोमेट्रिक उपस्थिति पर रोक लगा दी है.

IIM अहमदाबाद में दीक्षांत समारोह रद्द

भारतीय प्रबंध संस्थान अहमदाबाद (आईआईएमए) ने कोरोना वायरस के कारण 21 मार्च को होने वाले अपने वार्षिक दीक्षांत समारोह को रद्द कर दिया है. देश के प्रमुख बिजनेस स्कूल ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि दीक्षांत समारोह को रद्द करने का निर्णय केंद्र सरकार की ओर से जारी एक परामर्श के मद्देनजर लिया गया है, जिसमें लोगों को बड़ी सभाओं व भीड़ से बचने के लिए कहा गया है.

खेल-

खाली स्टेडियमों में होंगे भारत-दक्षिण अफ्रीका के मैच

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच लखनऊ और कोलकाता में होने वाले आखिरी दो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच कोरोना वायरस महामारी के कारण खाली स्टेडियमों में खेले जाएंगे। बीसीसीआई ने गुरुवार को यह घोषणा की. लखनऊ में मैच 15 मार्च को जबकि कोलकाता में 18 मार्च को खेला जाना है.

रद्द हुई ‘रोड सेफ्टी विश्व सीरीज’

सचिन तेंदुलकर और ब्रायन लारा जैसे महान खिलाड़ियों की मौजूदगी वाली रोड सेफ्टी विश्व सीरीज को महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए फिलहाल के लिये रद्द कर दिया गया है. आयोजकों ने बताया कि खिलाड़ियों और लोगों की सुरक्षा को देखते हुए श्रृंखला रद्द कर दी गयी है. लोगों की सुरक्षा को देखते हुए और स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी परामर्श के बाद आयेाजकों ने बचे हुए मैचों को बाद में किसी और तारीखों में कराने पर सहमति जतायी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.