145 देशों में संक्रमण और 5436 मौतें: 11 साल बाद अमेरिका में इमरजेंसी, फ्रांस में एक दिन में 800 नए मामले

0
71

वॉशिंगटन. डोनाल्ड ट्रम्प ने कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बाद अमेरिका में नेशनल इमरजेंसी घोषित कर दी। कोरोना के खतरे से निपटने के लिए सभी राज्यों को 50 बिलियन डॉलर (करीब 3.69 लाख करोड़ रुपए) की सहायता को मंजूरी दी है। इस बीच, दुनिया में कोरोनावायरस के कुल 1 लाख 45 हजार 634 मामले सामने आ चुके हैं। शनिवार सुबह तक कुल 5436 लोगों की मौत हो गई। दूसरी तरफ, पत्नी के संक्रमित होने के बाद कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो भी क्वारैंटाइन किए गए हैं। वे घर से ही काम कर रहे हैं। वहीं, पाकिस्तान ने ईरान और अफगानिस्तान से लगी सीमाएं सील कर दी हैं। शादियों में भी लोग नहीं जुट सकेंगे।

अमेरिका में 11 साल बाद हेल्थ इमरजेंसी लगाई गई है। इससे पहले अप्रैल 2009 में स्वाइन फ्लू के चलते बराक ओबामा ने हेल्थ इमरजेंसी का ऐलान किया था।

ट्रूडो ने आइसोलेशन की तस्वीर शेयर की
शुक्रवार को कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो की पत्नी सोफी को कोरोनावायरस पॉजिटिव पाया गया। उनका इलाज चल रहा है। जस्टिन घर से ही कामकाज संभाल रहे हैं। इसकी एक तस्वीर उन्होंने ट्विटर पर शेयर की है। उनके बच्चे भी फिलहाल किसी गतिविधी में हिस्सा नहीं ले रहे हैं। इन्हें भी घर पर ही रहने की सलाह दी गई है। जस्टिन ने ट्विटर पर लिखा, “मुझमें कोरोनावायरस का कोई लक्षण नहीं पाया गया। मैं बेहतर महसूस कर रहा हूं। तकनीक की मदद से मैं घर से सरकारी कामकाज संभाल पा रहा हूं।

ट्रम्प की राज्यों से अपील 
अमेरिकी राष्ट्रपति ने राज्यों से अपील में कहा, “सभी राज्य इस संकट की घड़ी में कोरोनावायरस से निपटने के उपायों पर फौरन उपाय करें। हम राज्यों को इससे निपटने के लिए 50 अरब डॉलर का फंड रिलीज कर रहे हैं। एक नेशनल डेटा सेंटर और स्पेशल यूनिट तैयार की गई है। इसमें पूरे देश की मॉनिटरिंग की जाएगी। अमेरिकी सरकार हर वो कदम उठाने जा रही है जो देश को इस महामारी से सुरक्षित रख सके।”

अमेरिका में कितने केस
शुक्रवार रात तक अमेरिका में कोरोनावायरस के कुल दो हजार मामले सामने आए। यहां अब तक 50 लोगों की मौत हो चुकी है। ट्रम्प ने विदेश अमेरिकी बंदरगाहों पर आने वाले शिप पर रोक लगा दी है। मैक्सिको और दूसरे देशों से लगने वाली सीमाओं पर हाई थर्मल स्कैनर लगाए गए हैं। अमेरिकी सेना की स्पेशल मेडिकल यूनिट को भी हालात पर नजर रखने के लिए अलर्ट पर रहने को कहा गया है।  


गूगल की भी मदद लेंगे
ट्रम्प ने कहा कि गूगल से जुड़ी अल्फाबेट कंपनी एक वेबसाइट तैयार कर रही है। इस पर जाकर लोग कोरोनावायरस के लक्षणों संबंधी जानकारी हासिल कर अपनी सेहत के बारे में खुद जान सकेंगे। गूगल ने भी ट्विटर पर इसकी जानकारी दी है।  

भारतीय दूतावास की सलाह
अमेरिका में भारतीय दूतावास ने अपने देश के छात्रों को सलाह दी है कि वो फिलहाल किसी भी गैर जरूरी सफर से परहेज करें। दूतावास ने इसका ऐलान ट्रम्प के अमेरिका में नेशनल इमरजेंसी घोषित किए जाने के बाद किया।  

पाकिस्तान में शादियों में नहीं जुट सकेंगे मेहमान
पाकिस्तान में शनिवार सुबह तक 28 लोग कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए। इमरान खान सरकार ने ईरान और अफगानिस्तान की पश्चिमी सीमाएं 2 हफ्ते के लिए सील करने का ऐलान किया। सिंध प्रांत में तो सभी स्कूल और कॉलेज 15 मई तक बंद करने के आदेश दिए गए हैं। ईरान से लौटे कुछ लोगों को क्वॉरन्टाइन किया गया है। शादियों और कॉन्फ्रेंस में लोगों के जुटने पर भी दो हफ्ते की रोक लगा दी गई है। सिनेमा हॉल बंद कर दिए गए हैं जबकि पीएसएल का शेड्यूल छोटा किया गया है। ये मैच भी बिना दर्शकों के होंगे। कराची, इस्लामाबाद और लाहौर के अलावा किसी अन्य हवाईअड्डे से इंटरनेशनल फ्लाइट्स नहीं जाएंगी।

दुनिया के 10 सबसे ज्यादा प्रभावित देश और उनमें मौतों का आंकड़ा

देश का नाममामलेकुल मौत
चीन80,824    3,189
इटली17,660   1,266
ईरान11,364   514
दक्षिण कोरिया8,086    72
स्पेन5,232   133
जर्मनी3,675    8
फ्रांस3,661   79
अमेरिका2,291    50
जापान1,430   28
स्विटजरलैंड1,139   11
भारत822

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.