स्वच्छ सर्वेक्षण 2020: इंदौर लगातार चौथी बार सबसे स्वच्छ शहर बना,पटना 47वें स्थान पर

0
68
  • 10 सबसे साफ शहरों में गुजरात के 4 शहर,
  • भोपाल 7वें नंबर पर
  • बनारस बेस्ट गंगा टाउन घोषित
  • वर्ष 2019 में पटना था 319 वें स्थान पर

केंद्र सरकार के स्वच्छता सर्वेक्षण में वाराणसी को ‘गंगा किनारे बसा हुआ सबसे अच्छा शहर’ घोषित किया गया है। केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने एक समारोह में स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2020 की घोषणा की। लगातार चौथी बार मध्यप्रदेश के शहर इंदौर को सबसे स्वच्छ शहर का खिताब हासिल हुआ। वहीं गुजरात के सूरत को दूसरा और महाराष्ट्र के नवी मुंबई को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है। इस दौरान साफ-सफाई को लेकर बेहतर प्रदर्शन करने वाले शहरों को पुरस्कृत भी किया गया। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने देश के कुछ ‘स्वच्छाग्रहियों’ और सफाईकर्मियों से बातचीत भी की।

 आपको बता दें कि इससे पहले चार बार इस तरह का सवेर्क्षण हो चुका है। केन्द्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा आयोजित ‘स्वच्छ महोत्सव’ नाम के इस कार्यक्रम में कुल 129 शहरों को पुरस्कार प्रदान किए जायेंगे। 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में पटना सबसे निचले यानि 47 वें पायदान पर है । इस सर्वे में पटना से 2381 लोगों का मत लिया गया था।

पहले खबर थी कि पीएम मोदी इस मौके पर वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से स्वच्छ भारत मिशन शहरी के तहत काम करने वाले देशभर के चुनिंदा लाभार्थियों , स्वच्छाग्रहियों और सफाईकर्मियों के साथ बातचीत भी करेंगे। मगर किसी कारण वह इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाए। 

दुनिया के इस सबसे बड़े स्वच्छता सर्वेक्षण में 4242 शहरों, 62 छावनी बोर्डों और 92 गंगा के समीप बसे कस्बों की रैंकिंग जारी की जायेगी। इन क्षेत्रों में करीब 1 करोड़ 90 लाख आबादी रहती है। सर्वेक्षण के पहले संस्करण में भारत में सबसे स्वच्छ शहर का खिताब मैसुरू ने हासिल किया था, जबकि इसके बाद इंदौर लगातार तीन साल तक (2017,2018,2019) शीर्ष स्थान पर रहा ।

करीब एक महीने चले इस सवेर्क्षण के दौरान एक करोड़ 70 लाख नागरिकों ने स्वच्छता ऐप पर पंजीकरण किया है। सोशल मीडिया पर 11 करोड़ से अधिक लोग इससे जुड़े। साढे पांच लाख से अधिक सफाई कर्मचारी सामाजिक कल्याण योजनाओं से जुड़े और ऐसे 21 हजार स्थानों की पहचान की गई, जहां कचरा पाये जाने की ज्यादा संभावना है। आवास एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी के साथ साथ  विभिन्न शहरों के मेयर , निगम आयुक्त और अन्य पक्षधारक इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। 

केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को इंदौर के सबसे स्वच्छ शहर बनने पर बधाई भी दी। सर्वेक्षण में 100 से ज्यादा शहरों वाले राज्य में सबसे साफ राज्य छत्तीसगढ़ और 100 से कम शहरों वाले राज्य में सबसे साफ राज्य झारखंड घोषित किया गया

जालंधर कैंट बनी सबसे स्वच्छ छावनी
केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर कहा, ‘स्वच्छता के सिपाही। स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में भारत की सबसे स्वच्छ छावनी होने के लिए जालंधर कैंट को हार्दिक बधाई।’

वाराणसी बना गंगा के किनारे बसा सबसे साफ शहर
केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट कर कहा, ‘प्राचीन पवित्र शहर वाराणसी गंगा नदी के किनारे बसा सबसे साफ शहर है। लोकसभा में शहर का प्रतिनिधित्व करने वाले प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को उनके दूरदर्शी नेतृत्व के लिए हार्दिक बधाई, जिन्होंने इस उपलब्धि के लिए शहर के लोगों को प्रेरित किया है।’

एक लाख से ज्यादा आबादी वाला सबसे स्वच्छ शहर बना शाहजहांपुर
एक लाख से अधिक की आबादी वाली श्रेणी में अधिकतम नागरिक भागीदारी के मामले में सर्वश्रेष्ठ शहर का खिताब उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर को मिला है। वहीं एक लाख से कम आबादी वाले शहरों की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ शहर का खिताब उत्तराखंड के नंदप्रयाग को मिला है।

देश के 10 सबसे साफ शहर

रैंकशहरपॉइंट
1इंदौर5647.56
2सूरत5519.59
3नवी मुंबई5467.89
4विजयवाड़ा5270.32
5अहमदाबाद5207.13
6राजकोट5157.36
7भोपाल5066.31
8चंडीगढ़4970.07
9विशाखापट्टनम4918.44
10वडोदरा4870.34

चौथी बार नंबर-1 बनने पर इंदौर में जश्न मनाया जाएगा। इसकी तैयारियां सांसद शंकर लालवानी द्वारा करवाई जा रही हैं। घोषणा होने से पहले ऐसे लोगों को बुलाया जिनके सोशल मीडिया पर लाखों फॉलोअर्स हैं। ये लोग अपने-अपने प्लेटफॉर्म के जरिए सोशल मीडिया पर ‘सफाई में इंदौर का चौका’ की जानकारी लाइव पहुंचाएंगे।

शाम को घर-घर दीप जलेंगे और थालियां बजाई जाएंगी। सांसद ने लोगों से अपील की है कि शुक्रवार सुबह घर-घर आने वाले सफाईकर्मियों का सम्मान करें। उन्हें माला पहनाकर आरती उतारें और मिठाई खिलाएं। रवींद्र नाट्यगृह में 400 लोगों का समारोह भी होगा। इसमें सभी जोन से सफाईकर्मियों का प्रतिनिधित्व रहेगा।

पूरी सूची के लिए यहाँ क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.