बिहार: AIIMS में Covaxin के बाद अब RMRI में शुरू होगा Covishield वैक्सिन का परीक्षण

0
51

कोरोना महामारी (Corona epidemic) से निपटने के लिए भारत लगातार प्रयासरत है और अलग-अलग कम्पनियों के वैक्सिन के परीक्षण में जुटा है. देश के 14 संस्थानों में पहले से चल रहे कोवैक्सिन (Covaxin) ट्रायल में मिल रही सफलता के बाद अब आईसीएमआर प्रायोजित Covishield नामक वैक्सिन का परीक्षण शुरू होनेवाला है. सीरम इंस्टीच्यूट ऑफ इंडिया, आईसीएमआर के सहयोग से वैक्सिन chadox 1 को covishield वैक्सिन परीक्षण की अनुमति दे दी गयी है. इस वैक्सिन का परीक्षण एक साथ पटना के आरएमआरआई (RMRI ) समेत देश के 17 संस्थानों में 1600 लोगों पर किया जाएगा. आईसीएमआर के निर्देश के मुताबिक देशभर में 2 या 3 चरण में इस वैक्सिन का मानव परीक्षण होगा जिसमें पटना को 160 लोगों पर ट्रायल करने का लक्ष्य दिया गया है.

यह परीक्षण विशाखापत्तनम में आंध्र मेडिकल कॉलेज, एम्स दिल्ली, एम्स जोधपुर, बीजे मेडिकल कॉलेज पुणे, आईसीएमआर रिजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर गोरखपुर, पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीच्यूट ऑफ़ मेडिकल एजुकेशन चंडीगढ़ समेत 17 संस्थानों में होगा. आईसीएमआर के मुताबिक यह अध्ययन ओपीडी के आधार पर होगा यानि परीक्षण कराने आये प्रतिभागियों को भर्ती होने की आवश्यकता नहीं होगी. पहले और 29वें दिन 0.5 एमएल इंजेक्शन का डोज दिया जाएगा और वैक्सिन लेनेवाले लोगों पर अध्ययन के लिए 6 माह तक निगरानी रखी जायेगी.

बता दें कि इस वक्त भारत मे 3 वैक्सिन डेवलप किये जा रहे हैं. जिनका परीक्षण जारी है उनमें भारत बायोटेक इंटरनेशनल, जाइड्स कैडिला और सीरम इंस्टीच्यूट ऑफ इंडिया शामिल है. माना जा रहा है सब कुछ ठीक रहा तो साल के अंत तक भारत में कोरोना वैक्सिन का ईजाद कर लिया जाएगा और कोरोना पर काबू पाने में भारत सबसे बेहतर स्थिति वाला देश होगा. आरएमआरआई के निदेशक डॉ पीके दास ने खुशी जताते हुए कहा कि बिहार के लिए बड़ी बात है कि 17 संस्थानों में बिहार में भी परीक्षण हो सकेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.