UN warning:केरल और कर्नाटक में काफी संख्या में आईएस आतंकी हो सकते हैं

0
58
  • 200 आतंकी इलाके में बड़े हमले की साजिश रच रहे
  • आईएस ने पिछले साल भारत में नया प्रांत ‘विलायाह ऑफ हिंद’ बनाने का किया था दावा
  • भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा आईएस का मददगार है
  • शामिल हैं भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और म्यांमार के आतंकी

दिल्ली में पुलिस की स्पेशल सेल ने शनिवार को इस्लामिक स्टेट (आईएस) के एक आतंकी को एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार कर लिया। उसके पास 2 आईईडी (इंप्रूव्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) और एक पिस्टल मिले हैं। आतंकवाद पर संयुक्त राष्ट्र ने पिछले दिनों एक रिपोर्ट जारी की थी। इसमें आगाह किया गया था कि केरल और कर्नाटक में बड़ी संख्या में आईएस आतंकी हो सकते हैं।

पुराने सरगना की मौत का बदला लेने की तैयारी

रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया था भारतीय उपमहाद्वीप में अल-कायदा (एक्यूआईएस) आतंकवादी संगठन हमले की साजिश रच रहा है। एक्यूआईएस का मौजूदा सरगना ओसामा महमूद है, जिसने मारे गए आसिम उमर की जगह ली है। वह उमर की मौत का बदला लेने के लिए क्षेत्र में जवाबी कार्रवाई की साजिश रच रहा है।

आईएस के एक मददगार देश ने बताया कि भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा के 180 से 200 आतंकी हैं। ये भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और म्यांमार से हैं। भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा आईएस का सहयोगी है।

आईएस ने भारत में नया प्रांत बनाने का दावा किया था
आईएस ने 10 मई 2019 को अपनी न्यूज एजेंसी अमाक के हवाले से दावा किया था कि वह भारत में एक नया प्रांत ‘विलायाह ऑफ हिंद’ स्थापित करने में कामयाब हो गया है। यह दावा कश्मीर में एक एनकाउंटर के बाद किया गया था। इस मुठभेड़ में सोफी नाम का आतंकी मारा गया था। जिसका संबंध इसी संगठन से था। वह करीब 10 साल से भी अधिक समय से कश्मीर में कई आतंकी संगठनों के साथ काम कर रहा था। बाद में वह आईएस में शामिल हो गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.