मिशन बिहार :विकास की रफ़्तार बनाए रखने के लिए एनडीए सरकार जरूरी, तीन चौथाई से अधिक सीट जीतेंगे: भूपेंद्र यादव

0
69

भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री व बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव ने कहा है कि बिहार विकास की पटरी पर तेजी से दौड़ रहा है और यह रफ़्तार बनाए रखने के लिए नीतीश कुमार के नेतृत्व में फिर एनडीए की सरकार आवश्यक है। वे प्रदेश कार्यसमिति बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने दावा किया कि बिहार विधानसभा चुनाव का परिणाम लोकसभा चुनाव जैसा ही होगा। एनडीए तीन चौथाई सीटों पर जीत हासिल करेगी।

भूपेंद्र यादव ने विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव और राजद की ख़ूब ख़बर ली। बिहार के विकास के मुद्दे पर उन्हें घेरा भी।उन्होंने राजद सरकार से एनडीए सरकार की भी तुलना की और विकास पर डिबेट की चुनौती भी दी। कहा कि राजद किसको चुनौती दे रहा है। आंकड़े बिहार के विकास की गवाही देते हैं।

बिहार में पन्द्रह साल में स्वास्थ्य बजट पचास गुणा बढ़ा है जबकि लालू परिवार ने अपनी संपति को पचास गुणा बढ़ाया। राजद शासन में बिहार का हेल्थ बजट 278 करोड़ था, जो अब लगभग 10 हजार करोड़ है। राजद शासन में बिहार में प्राइमरी हेल्थकेयर सेंटर 398 थे, जो अब 1500 से अधिक हैं।राजद शासन में बिहार में महिला हेल्थ असिस्टेंट 479 थीं, जिनकी संख्या अब 20000 से ज्यादा हैं। लालू-राबड़ी की सरकार हमारी क्या तुलना करेंगे?

यादव ने कहा कि हम कहते हैं, बिहार बढ़े, राजद कहता है केवल अपना परिवार बढ़े। हम कहते हैं बिहार सुरक्षित, आरजेडी कहता है ‘परिवार’ पल्लवित-पुष्पित। हम कहते हैं खत्म हो भ्रष्टचार, वो कहते हैं-भ्रष्टाचार हमारा अधिकार। हम कहते हैं ‘आत्मनिर्भर बिहार’। वे कहते हैं- केवल अपना परिवार।

तेजस्वी को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि वे वर्चुअल माध्यमों का विरोध करते हैं, लेकिन मज़े में फ़ेसबुक और ट्विटर का इस्तेमाल करते हैं। वर्चुअल के विरोध के पहले इन सबका इस्तेमाल करना छोड़ें। भाजपा के लिए ‘सेवा ही संगठन’ है। हमारे संगठन का उद्देश्य ही सेवा है। हमारे कार्यकर्ता चुनौतियों से मुंह मोड़कर भागते नहीं बल्कि जनता के साथ और जनता के बीच खड़े होते हैं। जो राजनीतिक लोग बेबुनियाद आलोचना करते फिर रहे हैं, लेकिन जब जनता के बीच खड़ा होने की जरूरत थी तब वे कहां थे? तब फ़ाइव स्टार होटल मेंबैठे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.