नीतीश बोले- मुखिया जी, पंचायत सरकार के आप मुख्य हैं

0
147

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि “ग्राम पंचायत के मुखिया जी, याद कर लें। जबसे हमलोगों को काम करने का मौका मिला, तभी से हमने कहा है कि केवल हम ही सरकार नहीं हैं। ग्राम पंचायत भी सरकार है। इसलिए पंचायतों में बन रहे भवन का नामकरण किया गया है, ‘पंचायत सरकार भवन’। पंचायत सरकार के आप ही मुख्य हैं। पंचायत सरकार भवन के निर्माण के लिए मुखिया को ही राशि आवंटित की जाती है। एक करोड़ से अधिक की राशि का भवन आपको बनना है।”

मुख्यमंत्री हर घर नल का जल और हर घर तक पक्की गली-नाली योजना का उद्घाटन करने के बाद अपना संबोधन दे रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 वें वित्त आयोग से आग्रह किया है कि पंचायत सरकार भवन के लिए अतिरिक्त राशि दें। हर पंचायत में उच्च माध्यिमिक विद्यालय के लिए भी राशि मांगी है। राशि वे दे देंगे तो बहुत तेजी से पंचायत सरकार भवन बनेगा। इस भवन में पंच-सरपंच के लिए भी जगह दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि आपदा के समय भी मुखिया से काम लिया जाता है, पर कुछ जगहों पर वे लोग कहे हैं कि सारा काम उनलोगों के द्वारा ही किया जा रहा है। सरकार कुछ नहीं कर रही है। इस तरह की बात नहीं करनी चाहिए। 

पहले वार्ड सदस्य को कोई पूछता था?
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सवालिया लहजे में कहा कि पहले वार्ड के सदस्यों को कोई पूछता था? अब देख लीजिए। हमनें हर वार्ड सदस्य को जिम्मेदारी दी गई है। वहीं मुखिया का भी काम पहले से बढ़ गया है। सबको काम करने का मौका मिला। सबलोग मिलकर चलिए, एक-दूसरे का सम्मान करे। विकेंद्रीतरण से काम होगा तो विकास और तेज होगा। 

सरकारी के विभाग में ही देर हुआ काम
मुख्यमंत्री ने कहा कि विकेंद्रीकरण से काम बेहतर और जल्दी होता है। वर्ष 2006 में ही हमने स्कूलों के भवनों और कमरों का निर्माण शिक्षा समिति से कराने का निर्णय लिया। इसका काफी बेहतर परिणाम मिला। इसी प्रकार नल-जल और गली-नाली पक्कीकरण का काम वार्डों को दिया, तभी तेजी से हुआ यह काम। देख लीजिए पंचायत और निकाय वाला काम तेजी से हो रहा है। इस योजना में देरी हुई तो सरकार के विभाग पीएचईडी मे ही। बाद में पीएचईडी ने भी छोटे स्तर पर करके इसे शुरू किया, तो उसमें तेजी आई।  

कुछ लोग भड़काएंगे, पर याद रखिएगा
मुख्यमंत्री ने कहा कि जिसको ना काम की जानकारी ना समझ है, वे उल्टा-पुल्टा बोलते रहते हैं। कुछ लोग गांवों में जाकर भड़काएंगे भी। पर, सबलोग याद रखिएगा। पहले क्या स्थिति थी और अब कितने काम हुए हैं। पहले गर्मी में भी गांव के रास्ते में कीचड़ दिखते थे। अब राज्य के एक लाख 14 हजार, 621 वार्डों में से एक लाख 13 हजार 209 वार्डों में हर घर तक पक्की गली और नाली बन गया है। शेष वार्डों में भी शीग्र निर्माण पूरा हो जाएगा। कुछ जगहों पर पेवर ब्लॉक भी लगे हैं। यह अच्छी जीच है, इससे बारिश का पानी में जमीन के नीचे जाता है, जिससे भू-जल स्तर मेंटन में मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोग तो दायें-बायें करेंगे हीं। शराबबंदी से भी कुछ लोग नाराज है। पर, हमलोग अपना काम करते हैं।  मुख्यमंत्री ने इस मौके पर हर घर तक नल का जल योजना के लाभार्थियों से संवाद भी किया। शिवहर,  रोहतास, मुंगेर, भागलपुर में लोगों से पूछा कि पानी की आपूर्ति ठीक से उनके घरों में हो रही है न।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.