‘शपथग्रहण’ के 10 महीने बाद फिर साथ नजर आए फडणवीस-अजित पवार

0
46

पुणे में एक कार्यक्रम के दौरान महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस और वर्तमान डिप्टी सीएम अजित पवार साथ दिखाई दिए. बीते साल महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के बाद 23 नवंबर को देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार ने साथ शपथ लेकर राजनीतिक कोहराम मचा दिया था.

दोनों के शपथग्रहण के बाद बढ़ गई राजनीतिक गहमागहमी
दरअसल चुनाव में NDA गठबंधन को पूर्ण बहुमत आने के बाद शिवसेना ने खुद को बीजेपी से अलग कर लिया था. सरकार बनाने को लेकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के यहां कई दावे पेश किए गए. लेकिन फिर एकाएक फडणवीस और अजित पवार ने सीएम और डिप्टी सीएम पद की शपथ लेकर लोगों को हैरत में डाल दिया था. हालांकि बाद में शरद पवार के हस्तक्षेप के बाद अजित फिर से एनसीपी में वापस लौटे और शिवसेना की अगुआई वाली सरकार में डिप्टी सीएम बने.

इस पूरे घटनाक्रम के कई महीने बाद शुक्रवार को एक बार फिर दोनों नेता साथ दिखाई दिए. पुणे म्युनिसिपल कॉरपोरेशन के मल्टी स्टोरी कोविड-19 अस्पताल का उद्घाटन दोनों नेताओं ने किया. इस कार्यक्रम में बीजेपी के राज्य अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल भी मौजूद थे.
फडणवीस ने की अजित की तारीफ, शिवसेना की खिंचाई

कहा जा रहा है कि दोनों के एक बार फिर एक साथ कार्यक्रम में मौजूद रहने को लेकर राजनीतिक चर्चाएं गर्म हो सकती हैं. दिलचस्प रूप से कार्यक्रम के दौरान पूर्व सीएम फडणवीस ने पुणे जिले में अजित पवार द्वारा कराए गए कामों की तारीफ की लेकिन शिवसेना की खिंचाई करने से भी नहीं चूके.

सुशांत सिंह मामले में पार्थ पवार करते रहे हैं सीबीआई जांच की मांग
गौरतलब है कि एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में भी अजित पवार के बेटे पार्थ पवार सीबीआई जांच की मांग करते रहे हैं. जबकि शिवसेना ने जांच को लेकर मुंबई पुलिस पर ज्यादा भरोसा जताया था. मामला ज्यादा बढ़ने पर पार्थ पवार को शरद पवार की तरफ से डांट भी पड़ी थी. लेकिन फिर सुप्रीम कोर्ट द्वारा भी सीबीआई जांच को सही ठहराया गया और शिवसेना को झटका लगा, तब भी पार्थ ने सीबीआई जांच का स्वागत किया था. इसे लेकर भी राज्य की राजनीति में काफी कयासबाजी की जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.