डायबिटीज को कंट्रोल में रखता है अमरूद, डाइट में जरूर करें शामिल

0
196

डायबिटीज एक बहुत आम बीमारी है जो किसी को भी हो सकती है. हालांकि बदलते लाइफस्टाइल की वजह से ये बीमारी अब लोगों में तेजी से बढ़ रही है जो कि चिंता का विषय है. डायबिटीज की दर हर साल बढ़ती जा रही है और मौजूदा हालात में लोगों को अपनी सेहत पर बहुत ध्यान देने की जरूरत है. डायबिटीज तब होता है जब अग्न्याशय ब्लड शुगर को सही रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन नहीं बना पाता है.इंसुलिन ना बन पाने की वजह से ब्लड शुगर कोशिकाओं में स्टोर नहीं हो पाता है जिसकी वजह से बॉडी में इसका लेवल अनियमित रूप से बढ़ने लगता है. डायबिटीज बढ़ने की मुख्य वजह जरूरत से ज्यादा मीठा खाना है. इसके अलावा और भी कई वजह हैं जो डायबिटीज को बढ़ाने का काम करती हैं. इसे कम करने के लिए जरूरी है कि आप अपनी डाइट में उन फलों को शामिल करें जो डायबिटीज को कम करने में मदद करते हैं.

अमरूद एक ऐसा फल है जो डायबिटीज को कंट्रोल रखने में मदद करता है. अमरूद में एक खास तरह को पोषक तत्व पाया जाता है जो डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. आइए जानते हैं कि आखिर अमरूद किस तरह से ब्लड शुगर को नियंत्रित करने का काम करता है.अमरूद में ग्लाइसेमिक इंडेक्स (GI)बहुत कम मात्रा में पाया जाता है. इसका मतलब ये है कि अमरूद आसानी से पच जाता है और शरीर में धीरे-धीरे अपने पोषक तत्व छोड़ता है. अमरूद ग्लूकोज के स्तर को बढ़ने से रोकता है.

अमरूद में बहुत ज्यादा फाइबर पाया जाता है. फाइबर ब्लड शुगर नियंत्रित रखने में अहम माना जाता है. फाइबर को पचने में ज्यादा समय लगता है जिससे ये खून तक देरी से पहुंचता है.

अमरूद में कैलोरी कम पाई जाती है इसलिए इससे वजन भी कम होता है. आपको बता दें कि ब्लड शुगर बढ़ने का एक कारण जरूरत से ज्यादा वजन भी माना जाता है. यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर के आंकड़ों के अनुसार, 100 ग्राम अमरूद में सिर्फ 68 कैलोरी और 8.92 ग्राम प्राकृतिक मिठास पाया जाता है.

अमरूद में सोडियम कम और पोटेशियम ज्यादा पाया जाता है जिसे डायबिटीज डाइट के लिए जरूरी माना जाता है. इसके अलावा अमरूद में संतरे के मुकाबले 4 गुना ज्यादा विटामिन सी पाया जाता है. विटामिन सी शरीर में इम्यूनिटी बढ़ाने का करता है जिससे डायबिटीज जैसी बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है.

अमरूद में सभी जरूरी विटामिन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो कि एक स्वस्ठ शरीर के लिए जरूरी होते हैं. आप इसे कच्चा भी खा सकते हैं या इसका जूस बनाकर भी पी सकते हैं.

  1. अमरूद को काले नमक के साथ खाने से पाचन संबंधी समस्या दूर हो जाती है। पाचन क्रिया के लिए ये बेहतरीन फल है।

2. यदि बच्चों के पेट में कीड़े पड़ गए हैं तो अमरूद का सेवन करना उनके लिए फायदेमंद होगा।

3. अमरूद की पत्त‍ियों को पीसकर उसका पेस्ट बनाकर आंखों के नीचे लगाने से काले घेरे और सूजन कम हो जाती है।

4. यदि कब्ज की समस्या है तो सुबह खाली पेट पका हुआ अमरूद खाना फायदेमंद रहता है।

5. मुंह से दुर्गंध आती है तो अमरूद की कोमल पत्त‍ियों को चबाना आपके लिए फायदेमंद रहेगा। इसके अलावा इसे चबाने से दांतों का दर्द भी कम हो जाता है।

6. पित्त की समस्या होने पर उसके लिए भी अमरूद का सेवन करना फायदेमंद होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.