लालू से मिलने पहुंची महिला MLA 14 दिनों के आइसोलेशन में, JDU ने पूछा- दलित हैं तो क्वारंटीन होंगी ?

0
51

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से मुलाकात के लिए रांची गई बिहार की महिला विधायक और उनके बॉडीगार्ड-सहयोगी को आइसोलेशन वार्ड में भेजे जाने को लेकर बिहार में राजनीति तेज हो गई है. बिहार की बाराचट्टी से राजद विधायक समता देवी को झारखंड में क्वॉरेंटाइन किए जाने के मामले में जेडीयू और बीजेपी ने तेजस्वी समेत लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधा है.

बिहार सरकार के मंत्री और जेडीयू के सीनियर लीडर नीरज कुमार ने लालू प्रसाद पर हमला बोलते हुए कहा कि लालू के परिजन जब उनसे मिलने झारखंड जाते हैं तो क्वारंटाइन नहीं किए जाते हैं लेकिन जब एक दलित विधायिका उनसे मिलने पहुंचती है तो उसे क्वॉरेंटाइन किया जाता है. नीरज ने कहा कि इस मामले पर तेजस्वी यादव को जुबान खोलना चाहिए और बताना चाहिए कि कौन सही है. नीरज ने पूछा कि क्या सोने की चम्मच को लेकर जन्म लेने वाले लोगों को लालू से मिलने के दौरान क्वारंटाइन नहीं किया जाएगा लेकिन जब महिला विधायक दलित है तो उन्हें क्वॉरेंटाइन किया जा रहा है.

बिहार बीजेपी के प्रवक्ता निखिल आनंद भी इस मामले पर निशाना साधते हुए कहा कि जब लालू प्रसाद से मिलने अखिलेश सिंह जाते हैं तो कोई कार्रवाई नहीं होती है लेकिन दलित महिला के साथ वहां अत्याचार हो रहा है. निखिल ने इस मामले में हेमंत सरकार को लपेटे हुए कहा कि यह पूरा प्रकरण हेमंत सरकार का दोहरा चरित्र दर्शाता है लेकिन बीजेपी से कतई बर्दाश्त नहीं करेगी.

मालूम हो कि बिहार के बाराचट्टी से राजद विधायक समता देवी को उनकी एक सहयोगी और दो बॉडीगार्ड्स के साथ रांची प्रशासन ने बुधवार को तब आइसोलेशन वार्ड में भेज दिया जब वो राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान में पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव से मिलने के लिए पहुंची थीं. विधायक को आइसोलेशन वार्ड में भेजने का आदेश अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (कानून एवं व्यवस्था) अखिलेश कुमार सिन्हा द्वारा जारी किया गया. विधायक, गया से सड़क मार्ग से रांची पहुंची थीं. प्रदेश राजद अध्यक्ष अभय कुमार सिंह ने इस मामले में कहा कि उनके पास विधायक के पहुंचने के बारे में कोई सूचना नहीं है. उन्होंने प्रशासन द्वारा उठाये गए कदम पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.