मुंगेर:कुख्यात हिस्ट्रीशीटर की दोस्तों ने ही गोली मारकर की हत्या

0
26

बिहार के मुंगेर जिला के जमालपुर में बेखौफ बदमाशों ने क्षेत्र के धनसेठ पासवान (रेलकर्मी) के बेटे और कुख्यात कहे जाने वाले 40 वर्षीय इंदल पासवान उर्फ इंदला को जमीन विवाद में गोली मार दी। गोली लगते ही इंदल खून से लथपथ होकर जमीन पर बेहोश होकर गिर गया।

 घटना नया रामनगर थाना अन्तर्गत साफियासराय ओपी क्षेत्र के इन्द्ररूख पूर्वी पंचायत का हलीमपुर गांव की है। सूचना मिलते ही साफियासराय ओपी पुलिस ने घायल इंदल पासवान को सदर अस्पताल में भक्ति कराया। जहां गंभीर हालत को देखते हुए इंदल को भागलपुर जेएलएनएमसीएच रेफर कर दिया गया। जाते समय रास्ते में ही युवक की मौत हो गई।

जमीन को लेकर उपजे विवाद का शिकार हुआ इंदल:
सूत्रों के अनुसार इंदल की मौत का कारण जमीनी विवाद बताया जा रहा है।  इंदल हलीमपुर स्थित अपने घर के समीप ही स्थित एक प्लॉट को अकेले ही प्लॉटिंग कर बेचने की जुगाड़ में लगा हुआ था। प्लॉट का कुछ हिस्सा इंदल ने स्वयं भी खरीद रखा था। जो उसके साथ रहनेवाले दोस्तों को नागवार लग रहा था। इंदल के साथ रहनेवाले उसके दोस्तों ने भी इंदल से उस प्लॉट में हिस्सेदारी की मांग की थी। जिस पर इंदल ने एतराज जताया था। जिसके बाद रविवार की सुबह लगभग सवा आठ बजे इंदल जब प्लॉट पर पहुंचा तो पहले से घात लगाए उसके अपने और खास कहे जानेवाले दोस्तों ने इंदल पर गोली चला दी।

notorious historyheater in jamalpur of munger shot dead in land dispute

जुआ का अड्डा और रंगदारी वसूली का चलाता था कारोबार:
इंदल पासवान पर जिले के विभिन्न थानों में हत्या, लूट, डकैती, रंगदारी, आर्म्स एक्ट के दर्जनों आपराधिक मामले दर्ज थे। इंदल हाल ही में रंगदारी मामले में जेल से छूटकर भी बाहर आया था। सूत्रों की मानें तो इंदल क्षेत्र में बेखौफ होकर जुआ के अड्डे का संचालन किया करता था। जहां प्रतिदिन लाखों रुपये के वारे न्यारे भी हुआ करते थे। रंगदारी मांगना और उसकी वसूली तो इंदल का प्रमुख व्यवसाय बना हुआ था। 

घटना के कारणों के संबंध में साफियासराय ओपी प्रभारी गौरव कुमार ने बताया कि इंदल की मौत जमीन विवाद के कारण हुई है। उसके साथ रहनेवाले दोस्तों ने ही जमीन में हिस्सेदारी न मिलने के कारण घटना को अंजाम दिया है। पुलिस द्वारा अपने स्तर से मामले की जांच और घटना में शामिल बदमाशों की पहचान की जा रही है। इंदल के परिजनों द्वारा मामले में अबतक प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.