आरा:बालू माफियाओं के ऊपर कार्रवाई, अवैध खनन में शामिल 72 लोग गिरफ्तार

0
27

बिहार के आरा में नए एसपी ने बालू माफियाओं के ऊपर नकेल कसना शुरू कर दिया है. आईपीएस हरकिशोर राय की टीम सोन नदी के इलाकों में इनदिनों लगातार छापेमारी कर रही है. इसी क्रम में भोजपुर पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पुलिस ने 72 लोगों को गिरफ्तार किया है, जो अवैध रूप से हो रहे बालू खनन के धंधे में शामिल थे. पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर पुलिस आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है.

72 लोगों को किया गया गिरफ्तार

मामला भोजपुर जिले के कोईलवर थाना इलाके का है, जहां सोन नदी स्थित अब्दुलबारी पुल के पास छापेमारी कर पुलिस ने 72 लोगों को गिरफ्तार किया है, जो अवैध रूप से चल रहे बालू उत्खनन के खेल में शामिल थे. पकड़े गए सभी लोग आरा, पटना और सारण जिले के रहने वाले बताए जा रहे हैं. इसके अलावा पुलिस ने 5 नावों को भी जब्त किया है. पुलिस की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक खनन विभाग के बयान पर मामला दर्ज कर लिया गया है.

पुलिस ने 5 नाव किया जब्त

भोजपुर के एसपी हरकिशोर राय ने बताया कि बालू उत्खनन पर नकेल कसने के लिए पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है. कोईलवर थाना क्षेत्र से 72 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. एक सप्ताह के भीतर विशेष टीम ने दूसरी बार छापेमारी की है. इसी हफ्ते पुलिस ने छापेमारी कर तकरीबन 9 लोगों को गिरफ्तार किया था. उस वक़्त भी पुलिस ने 5 नाव को जब्त किया था. एसपी के नेतृत्व में यह बड़ी कार्रवाई की गई थी. इस दौरान लगभग आधा दर्जन पोकलेन मशीनों को भी क्षतिग्रस्त किया गया था.

Big action on sand mafia in Ara, 72 people involved in illegal mining arrested ann

टीम ने कई घंटों तक चलाया ऑपरेशन

उन्होंने बताया कि एसपी की ओर से तैयार की गई स्पेशल टीम खनन विभाग के अधिकारियों के साथ ही अहले सुबह कोइलवर थाना इलाके में सोन नदी में बिछ गई थी. खनन विभाग के जॉइंट डायरेक्टर प्रमोद कुमार, कोइलवर थानाध्यक्ष संजय कुमार सिन्हा और दारोगा जय राम पासवान स्पेशल आर्म्ड फोर्स की टीम के साथ पूरे इलाके का घेराव कर लिए थे. धनडीहां गांव से लेकर जमालपुर तक पुलिस की टीम ने कई घंटों तक ऑपरेशन चलाया, जिसके बाद पुलिस को इतनी बड़ी सफलता हाथ लगी.

बांस से किया था हमला

स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस की कार्रवाई से ठीक एक दिन पहले ही जवानों और खनन माफियाओं के साथ बहस और नोकझोंक भी हुई थी, जिसमें मजदूरों ने नाव पर रखे बांस से हमला किया था. हालांकि आधिकारिक रूप से इसकी कोई सूचना नहीं है.

धड़ल्ले से बालू के अवैध खनन का चल रहा धंधा

बता दें कि भोजपुर में बालू माफियाओं पर नकेल कसने के लिए खनन विभाग की टीम ने SAP जवानों को एक मोटर बोट भी मुहैया कराया है, जिसके सहारे पुलिस की टीम सोन नदी में पेट्रोलिंग करती रहती है. आपको बता दें कि एनजीटी की ओर से जारी प्रतिबंध के बावजूद भी बालू माफिया अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे हैं और जिले में धड़ल्ले से बालू के अवैध खनन का धंधा किया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.