गया:अगवा करने के 15 दिन बाद छात्र का मर्डर

0
122

अगवा छात्र शिवम की आज लाश मिलने से सनसनी फैल गई है. 15 दिन पहले अगवा हुए छात्र की अपराधियों ने हत्या करके उसकी लाश को फेंक डाला है. आज मंगलवार को अहले सुबह बोधगया के दोमुहान के पास एक गैस एजेंसी के बाउंड्री के निकट शिवम की लाश मिली है.जानकारी के मुताबिक 15 साल का शिवम बोधगया के दो मुहान स्थित अमर ज्योति मिशन स्कूल में दसवीं का छात्र था. बीते 7 सितंबर को शिवम घर से निकला था , धोबी के यहां कपड़ा आयरन कराने के लिए और मां से इच्छा जताई थी कि मिठाई खाने का मन कर रहा है तो मां ने शिवम को ₹50 दिए थे कि जाओ कपड़ा धोबी को देते हुए मिठाई खा लेना। इसके बाद शिवम नहीं लौटा। आज लगभग 15 दिनों के बाद शिवम की लाश मिली है। शिवम के पूरे परिवार का रो रो कर बुरा हाल है। अपहरणकर्ताओं की हिम्मत देखिए कि शिवम की लाश उसके घर से महज 2 किलोमीटर की परिधि में हत्या कर फेंक दी. बोधगया पुलिस मौके पर पहुंचकर लाश को कब्जे  में ले लिया है.

आपको बता दें कि पिछले दिनों शिवम के अपहरण के बाद उसके स्कूली दोस्तों ने शिवम की सकुशल वापसी के लिए कैंडल मार्च भी निकाला था। शिवम के दोस्तों ने उसकी वापसी के लिए अपहरणकर्ताओं से छोड़ने की गुहार भी लगाई थी . शिवम अपने परिवार में दो भाई था शिवम तेजतर्रार अपने माता पिता का बेटा था। अपहरणकर्ताओं ने शिवम की हत्या , फिरौती या रंगदारी के लिए नहीं की थी क्योंकि शिवम के परिवार वालों को 15 दिन बीत जाने के बाद भी कोई फोन कॉल या फिरौती की कोई मांग अपहरणकर्ताओं ने नहीं की थी। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि शिवम की हत्या पारिवारिक विवाद की वजह से हुई है.  बोधगया पुलिस बताती है कि अगर अपहरणकर्ताओं द्वारा रंगदारी या फिरौती के लिए छात्र का अपहरण किया जाता तो पांच छह दिन बीत जाने के बाद ही अपहरणकर्ताओं का फिरौती के लिए फोन जरूर आता लेकिन 15 दिन बीत जाने के बाद भी कोई फोन कॉल नहीं आना संदेह को खड़ा कर रहा था. ऐसे हाल में पुलिस के सामने इस केस को सोल्व करना बड़ी चुनौती बन गया है. पुलिस इस मर्डर मिस्ट्री को कैसे सोल्व करती है यह देखने वाली बात होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.