विधानसभा चुनाव से पहले बिहार को मिलीं अर्द्धसैनिक बलों की 300 कंपनियां, EC ने दिया था आदेश

0
44

बिहार में शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव की खातिर अर्द्धसैनिक बलों के आने के सिलसिला जल्द शुरू होगा। विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ चुनाव पूर्व अभियान के लिए बिहार को अर्द्धसैनिक बलों की 300 कंपनियां मिली हैं। निर्वाचन आयोग के आदेश के बाद जल्द ही इनके बिहार पहुंचने की संभावना है।

अर्द्धसैनिक बलों की 255 कंपनियां आएंगी
चुनाव के दौरान अर्द्धसैनिक बलों की प्रतिनियुक्ति दो चरणों में होती है। पहले चरण में एरिया डोमिनेशन के लिए सुरक्षाबल चुनाव की घोषणा के कुछ दिनों बाद पहुंचे थे। इसे चुनाव पूर्व प्रतिनियुक्ति कहा जाता है। विधानसभा चुनाव 2020 के लिए शुरुआती चरण में राज्य को सुरक्षाबलों की 300 कंपनी मिलीं हैं। इनमें 255 कंपनी बिहार आएगी जबकि 45 कंपनी पहले से यहां मौजूद हैं। 

सबसे अधिक सीआरपीएफ की 80 कंपनी
चुनाव पूर्व अभियान के लिए सर्वाधिक सीआरपीएफ की 80 कंपनी बिहार को मिलेगी। वहीं एसएसबी की 70 कंपनी रहेगी। इसके अलावा बीएसएफ की 55, सीआईएसएफ की 50, आईटीबीपी की 30 और आरपीएफ की 15 कंपनी भी बिहार आएगी। 

वर्ष 2015 में मिली थी 250 कंपनी
वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव में अर्द्धसैनिक बलों के साथ दूसरे राज्यों से आनेवाले सैन्य पुलिस की सवा सात सौ कंपनियां बिहार पहुंची थी। इनमें से 250 कंपनियां बिहार में चुनाव पूर्व अभियान के लिए मिली थी। 202 कंपनी बाहर से आई थी जबकि 48 यहां पहले से मौजूद थी। 

सैकड़ों कंपनी फोर्स की होगी जरूरत
चुनाव के दौरान सैकड़ों कंपनी अर्द्धसैनिक बलों की जरूरत होगी। पिछले विधानसभा चुनाव में सवा सात सौ कंपनी आई थी। इस दफे कितनी फोर्स आएगी अभी यह तय नहीं है। कुछ दिनों में इस बाबत स्थिति साफ होगी। वैसे पिछले बार से कम चरणों में चुनाव होना है लिहाजा बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों की जरूरत होगी। 

सभी जिलों में होती है प्रतिनियुक्ति
चुनाव पूर्व अभियान के लिए बिहार पहुंच रही अर्द्धसैनिक बलों की 255 कंपनियों को राज्य के सभी जिलों में प्रतिनियुक्त की जाएगी। जिला पुलिस की जरूरतों को ध्यान में रखकर इन्हें प्रतिनियुक्त किया जाता है। बड़े जिलों में एक साथ कई कंपनियों की प्रतिनियुक्ति होगी जो जिला पुलिस के साथ अपराधियों की धर-पकड़ के अलावा वाहन जांच अभियान में हिस्सा लेंगे। वहीं नक्सल प्रभावित इलाकों में भी बड़ी संख्या में इनकी प्रतिनियुक्ति होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.