सुशांत केस :AIIMS की विसरा रिपोर्ट में नहीं मिला जहर लेकिन कूपर अस्पताल की रिपोर्ट शक के दायरे में

0
202

एम्स की तरफ से की गई फॉरेंसिक जांच की रिपोर्ट सीबीआई को सौंप दी गई है. वहीं अब इस रिपोर्ट को लेकर बड़ी जानकारी सामने आई है. क्योंकि सुशांत के विसरा रिपोर्ट में यह सच सामने आ गया है.

AIIMS की रिपोर्ट की एक्सक्लूसिव जानकारी सामने आई है. सूत्रों के अनुसार, सुशांत के विसरा में किसी तरह का जहर नहीं पाया गया है.  सीबीआई की जांच अपने आखरी दौर में है, एम्स के फॉरेंसिक साइंस विभाग और सीएफएसएल की फाइंडिंग लगभग एक जैसी है. जरूरत पड़ने पर सीबीआई सुशांत के परिवार वालो से भी पूछताछ करेगी.

सुशांत के साथ रहने वाले लोगों ने जांच में कई अहम जानकारी दी है. एफआईआर में दर्ज किसी के नाम को अभी तक क्लीन चिट नहीं दी गई है. कूपर हॉस्पिटल के डॉक्टरों को भी क्लीन चिट नहीं दी गई है.

कूपर अस्पताल को क्लीनचिट नहीं

सीबीआई जांच से अलग नहीं है एम्स की रिपोर्ट. हालांकि अभी कूपर अस्पताल के डॉक्टरों को पूरी तरह से क्लीनचिट नहीं दी गई है. कूपर अस्पताल की रिपोर्ट को विस्तार से देखने की जरूरत बताई गई है. कूपर अस्पताल अभी भी सवालों के घेरे में है. एम्स की रिपोर्ट ये इशारा करती है कि कूपर अस्पताल द्वारा सुशांत मामले में लापरवाही बरती गई. मालूम हो, कूपर अस्पताल के डॉक्टर्स ने सुशांत की ऑटोप्सी की थी. जिसपर सवाल उठे थे. सुशांत के गले के निशान पर रिपोर्ट में कुछ भी नहीं बताया गया था. सुशांत की मौत की टाइमिंग भी नहीं बताई गई.  मेडिकल टीम के चेयरमैन डॉ. सुधीर गुप्ता ने कहा कि अंतिम रिपोर्ट के लिए कुछ कानूनी दृष्टिकोणों को देखना पड़ेगा.

सुशांत के परिवार ने रिया चक्रवर्ती को इस केस में मुख्य आरोपी बताया है. रिया के खिलाफ तीन एजेंसिया जांच कर रही हैं. सीबीआई ने भी रिया से पूछताछ की थी. रिया से ईडी और एनसीबी ने भी पूछताछ की. फिलहाल रिया ड्रग्स केस में भायखला जेल में पिछले 22 दिनों से बंद हैं.

इससे पहले, सीबीआई के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो पेशेवर जांच कर रहा है और सभी पहलुओं पर गौर किया जा रहा है और अभी तक किसी भी पहलू से इंकार नहीं किया गया है.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.