शर्मनाक: दानापुर में बिहिया की नाबालिग से 4 युवकों ने किया गैंगरेप

0
28

आशियाना से दानापुर जंक्शन ट्रेन पकड़कर अपने घर बिहिया जाने के लिए निकली नाबालिग लड़की शनिवार की रात रास्ते में दरिंदगी की शिकार हो गई। ऑटो में बैठने के बाद चालक की नीयत खराब हो गई।

ट्रेन नहीं होने व रात होने की बात कहकर ऑटो चालक ने नाबालिग लड़की को बहलाया-फुसलाया। बाद में उसे दानापुर थाना क्षेत्र के लेखानगर स्थित एक गोदाम में ले गया। जहां ऑटो चालक ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ नाबालिग से गैंगरेप किया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता से घटना की जानकारी ली। केस दर्ज कर पुलिस ने तीन नामजद आरोपितों राजेश, तुलसी और कल्लू को गिरफ्तार कर लिया, जबकि फरार ऑटो चालक टमाटर उर्फ करमू की तलाश की जा रही है।

ऑटो में पहले से सवार था एक, दो को फोन कर बुलाया
पीड़िता की उम्र करीब 14 वर्ष है। उसके मुताबिक, वह आशियाना में एक महिला के यहां दाई का काम करती थी। शनिवार की रात किसी बात को लेकर मकान मालकिन से उसका झगड़ा हो गया। गुस्से में आकर वह अपने घर बिहिया जाने के लिए पैदल ही निकल पड़ी। सगुना मोड़ पहुंचने के बाद दानापुर स्टेशन जाने के लिए एक ऑटो पकड़ा। ऑटो में चालक टमाटर उर्फ करमू का साथी राजेश बैठा था। दोनों बातचीत करते हुए दानापुर स्टेशन के लिए चल पड़े। कुछ दूर जाने पर चालक ने कहा कि बिहिया जाने के लिए कोई ट्रेन नहीं है। रात में अकेले जाना ठीक नहीं है। मेरे घर चलिए और मेरे बच्चों का देखभाल कीजिएगा। पीड़िता दोनों के झांसे में आ आ गई। इसके बाद चालक उसे ऑटो से अपने घर ले जाने लगा। रास्ते में ही चालक और उसके दोस्त ने अपने दो साथियों तुलसी और कल्लू को भी फोन कर दिया। बताया गया है कि लेखा नगर निवासी सुबोध सिंह के मकान में कल्लू ने एक गोदाम किराये पर ले रखा है। उसी गोदाम में ले जाकर चारों ने  नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

24 घंटे में गैंगरेप की दूसरी वारदात
चौबीस घंटे के भीतर दो थाना क्षेत्रों में गैंगरेप की दो बड़ी वारदात हुई है। बीते शुक्रवार को फतुहा में किशोरी के साथ पांच दरिंदों ने हैवानियत की थी। इस घिनौनी वारदात को लोग भूल भी नहीं पाये थे कि शनिवार की रात दानापुर में नाबालिग के साथ गैंगरेप की घटना हो गई।

सजग रहना जरूरी
दरिंदों से बचने के लिए खुद भी सजग होना जरूरी है। महिला थाना प्रभारी आरती जायसवाल का कहना है कि रात हो या दिन, ऑटो में अकेले कतई न बैठें। चालक के हाव-भाव को पूरी तरह से परख लें। ऑटो का नंबर, चालक का नाम पता हो सके तो नोट कर लें। चालक कोई झांसा दे तो उसकी बातों में कतई न आएं। गलत रास्ते से ले जाये तो हल्ला मचाएं और थाना प्रभारी, पुलिस कंट्रोल रूम में डायल 100 पर फोन करें।

दानापुर के प्रभारी पुलिस अधिकारी ने बताया कि आवेदन के आधार पर आरोपितों के खिलाफ गैंगरेप की धारा 376 डी, पॉस्को समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है, आटो चालक फरार है। उसे भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.