बिहार चुनाव 2020 : पुत्र धर्म के साथ नेतृत्व का फर्ज निभाते चुनावी अभियान में कूदे चिराग,वर्चुअल संवाद में नीतीश पर जमकर किया प्रहार

0
39

अपने पिता रामविलास पासवान के निधन के बाद चिराग पासवान एक तरफ अपने पुत्र धर्म का पालन कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ एलजेपी के लिए नेतृत्व का फर्ज भी अदा कर रहे हैं. चिराग पासवान अपने पिता के श्राद्ध कर्म और बाकी कर्मकांड से बंधे होने के कारण अगले 10 दिनों तक घर से बाहर नहीं निकल सकते, लेकिन इसके बावजूद उन्होंने वर्चुअल तरीके से चुनाव अभियान की शुरुआत कर दी है. चिराग पासवान ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चुनाव अभियान की शुरुआत की है.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अपने पार्टी के नेताओं कार्यकर्ताओं और समर्थकों को संबोधित करते हुए चिराग पासवान ने कहा है कि मैं बिहारी हूं और मुझे गर्व है बिहारी होने पर. चिराग पासवान ने कहा है कि चुनाव का अहम मुद्दा सिर्फ बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट अभियान है. लोक जनशक्ति पार्टी वोट धर्म-जाति पर नहीं बल्कि बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट के एजेंडे पर जनता का समर्थन मांगेगी. कुछ लोग बांटो और राज करो की राजनीति करते हैं, लेकिन हम इस सब से अलग विचारधारा के मुद्दे पर आगे बढ़ेंगे.

चिराग पासवान ने वर्चुअल चुनावी अभियान की शुरुआत करते हुए एक बार फिर से नीतीश कुमार पर जोरदार हमला बोला है. चिराग ने कहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अफसरों के इशारों पर काम करते हैं. चिराग ने कहा है कि प्रेस वार्ता में मेरा नाम सुनकर लोग भाग जाते हैं. चिराग पासवान ने कहा है कि प्रधानमंत्री की तस्वीर का इस्तेमाल नीतीश कुमार को करने की आवश्यकता है, हमें नहीं. क्योंकि प्रधानमंत्री की सोच हमारे दिल में बसती है और यह रिश्ता दिल का रिश्ता है. प्रधानमंत्री ने एक पिता की तरह मेरा साथ दिया है. चिराग पासवान ने फिर से कहा है कि जेडीयू उम्मीदवार को दिया गया एक भी वोट भविष्य में बिहार के लोगों को उनको अगली पीढ़ी के लिए पलायन पर मजबूर करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.