मोकामा में बोले ललन सिंह- रावण हैं अनंत सिंह, इस दशहरा में रावण वध कर दीजिये

0
98

लंबे अर्से तक जेडीयू के छोटे सरकार रहे अनंत सिंह को आज ललन सिंह ने रावण करार दिया है. अनंत सिंह के गढ़ मोकामा में आज ललन सिंह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ चुनावी सभा करने पहुंचे थे. ललन सिंह ने कहा-मोकामा का रावण बिहार के रावणों के साथ मिल गया है, इस दफे दशहरा में रावण वध कर दीजिये.

मोकामा में अनंत को चुनौती

एक दशक तक अनंत सिंह नीतीश कुमार और ललन सिंह दोनों के बेहद करीबी रहे हैं. नीतीश जब बाढ़ से लोकसभा चुनाव लड़ते थे तो अनंत सिंह मोकामा विधानसभा क्षेत्र के मैनेजर हुआ करते थे. बाद में जब मोकामा विधानसभा बाढ़ लोकसभा क्षेत्र में शामिल हुआ तो अनंत सिंह ललन सिंह के मैनेजर हो गये थे. लेकिन पिछले विधानसभा और लोकसभा चुनाव से शुरू हुई दुश्मनी अब बेहद तल्ख हो गयी है.

आज नीतीश कुमार ने जब अपना चुनाव प्रचार अभियान शुरू किया तो पहले ही दिन मोकामा विधानसभा क्षेत्र में जनसभा की. रैली के सूत्रधार स्थानीय सांसद और नीतीश के सिपाहसलार ललन सिंह ही थे. ललन सिंह और अनंत सिंह की दुश्मनी जगजाहिर है.

अनंत सिंह रावण

मोकामा के घोसवरी में चुनावी सभा में ललन सिंह ने कहा कि मोकामा में रावण राज चल रहा है. मोकामा का रावण इस दफे उन लोगों से जाकर मिल गया है जो बिहार के रावण हैं. लेकिन नीतीश कुमार राम हैं. नीतीश कुमार ने मोकामा क्षेत्र से जिन्हें टिकट दिया है वे भी राम हैं. दोनों मिलकर इस दफे रावण का खात्मा करेंगे. 

वैसे अहम सवाल ये है कि क्या वाकई नीतीश कुमार और ललन सिंह अनंत सिंह को परास्त कर पायेंगे. पिछले विधानसभा चुनाव में लालू प्रसाद यादव ने अनंत सिंह को उम्मीदवार बनाने का विरोध किया था. लिहाजा नीतीश कुमार ने अनंत सिंह का टिकट काटकर अपने खास नीरज कुमार को मोकामा से उम्मीदवार बनाया था. अनंत सिंह निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर मोकामा से चुनाव मैदान में उतर गये थे. निर्दलीय अनंत सिंह ने लालू और नीतीश दोनों का आशीर्वाद लेकर मैदान में उतरे नीरज कुमार को परास्त कर दिया था.

इसके अलावा सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि हमने पांच साल में क्या काम किया है. उससे आप पूरी तरह रूबरू हैं. उन्होंने कहा कि अभी तो हम काम कर रही रहे हैं, अभी और आगे बढ़ के काम करेंगे. इसके लिए हमने अगले पांच सालों के लिए सात निश्चय 2 का ऐलान किया है. जिसके तहत हमें युवाओं पर ध्यान देना है. जिस तरह से तकनीक धीरे-धीरे बढ़ रही है, ऐसे में हमें उन युवाओं को तकनीक से परिचय कराएंगे. साथ ही लोगों को परिक्षण भी कराएंगे. चाहे वो पॉलिटेक्निक के क्षेत्र में हो या फिर किसी अन्य क्षेत्र में हो.

इस दफे नीतीश कुमार ने ऐसे उम्मीदवार को मोकामा से चुनाव मैदान में उतारा है जो धार्मिक कार्यों के लिए ज्यादा जाने जाते हैं. हालांकि जेडीयू उम्मीदवार के पिता नीतीश कुमार के करीबी थे. ललन सिंह ने अनंत सिंह को हराने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है. देखना दिलचस्प होगा कि परिणाम क्या आता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.