Bihar Election 2020: चुनावी हलफनामे ने बड़े भाई को छोटा और छोटे को उम्र में बड़ा बना दिया , जानिए कैसे

0
31

लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्‍वी यादव ने बुधवार को राघोपुर से पर्चा भरने से पहले मां राबड़ी देवी के साथ बड़े भाई तेज प्रताप यादव के भी पैर छूकर आशीर्वाद लिया। ये तस्‍वीरें मीडिया में खूब वायरल हुईं लेकिन अब पता चला है कि तेजस्‍वी अपने बड़े भाई तेजप्रताप यादव से एक साल ‘बड़े हैं। यह खुलासा हुआ है तेजप्रताप और तेजस्‍वी द्वारा भरे गए नामांकन पत्रों से जो उन्‍होंने अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्र से दाखिल किए हैं। नामांकन के समय दिए गए विवरण के मुताबिक तेजस्‍वी की उम्र 31 साल है तो तेजप्रताप यादव की महज 30 साल। 

तेजप्रताप हसनपुर सीट से राजद के उम्‍मीदवार हैं। अपने नामांकन पत्र में उन्‍होंने अपनी उम्र 30 साल बताई है। जबकि बुधवार को तेजस्‍वी ने राघोपुर से पर्चा भरा तो अपनी उम्र 31 साल दर्ज की। अब लोग इस पर सवाल उठा रहे हैं। दुनिया तेजस्‍वी यादव को तेजप्रताप के छोटे भाई के रूप में ही देखती आई है। लेकिन नामांकन पत्रों में तेजस्‍वी, तेजप्रताप से बड़े कैसे हो गए यह किसी की समझ में नहीं आ रहा है। हालांकिे 2015 में हुए बिहार के पिछले विधानसभा चुनाव में भी तेजप्रताप और तेजस्‍वी के नामांकन पत्रों में उम्र में एक साल का ऐसा ही अंतर दिखा था।

तब तेजप्रताप ने अपनी उम्र 25 तो तेजस्‍वी ने 26 बताई थी। 2015 में तेजप्रताप ने महुआ सीट से चुनाव लड़ा था जबकि तेजस्‍वी ने राघोपुर सीट से ही वह चुनाव भी लड़ा था। उम्र को लेकर विवाद बढ़ने पर तेज प्रताप ने सफाई दी थी कि उन्‍होंने मतदाता सूची में दर्ज उम्र ही नामांकन पत्र में लिखी। उन्‍होंने उम्र में सुधार के लिए आवेदन करने की बात भी कही थी। लेकिन पांच साल गुजर जाने के बाद दोनों भाइयों की उम्र को लेकर फिर यही दिक्‍कत सामने आई है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.