इमामगंज में बोले नीतीश -मांझी को मैंने यहाँ भेजा है,अब जनता की जिम्मेदारी है कि मेरी प्रतिष्ठा बचाएं

0
51

महागठबंधन छोड़ने वाले जीतन राम मांझी को अपने दम पर एनडीए में एंट्री दिलाने वाले नीतीश कुमार आज मांझी के लिए खुद चुनाव प्रचार करने पहुंचे। गया के इमामगंज विधानसभा सीट पर जीतन राम मांझी के लिए नीतीश कुमार ने चुनावी जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान इमामगंज की जनता के सामने नीतीश ने यह राज खोला कि मांझी विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ना चाहते थे। लेकिन उन्होंने जबरदस्ती उन्हें चुनाव मैदान में उतरने को कहा.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि अब जब जीतन राम मांझी चुनाव मैदान में हैं तो यह जनता की जिम्मेदारी है कि वह मेरी प्रतिष्ठा को बचाएं। नीतीश कुमार ने इमामगंज के लोगों से अपील की कि वह उनकी लाज रखें और जीतन राम मांझी को जितवा कर विधानसभा भेजें। आपको बता दें कि जीतन राम मांझी के मुकाबले आरजेडी की तरफ से नीतीश कुमार के ही पुराने सहयोगी रहे उदय नारायण चौधरी मैदान में है। यहां उदय नारायण चौधरी और जीतन राम मांझी के बीच सीधा मुकाबला है।

कुछ लोग काम नहीं माल बनाना चाहते है

नीतीश कुमार ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कुछ लोग काम नहीं करना चाहते हैं। वह सिर्फ माल बनाना चाहते हैं। जो मेरे खिलाफ बोलते हैं उनको बिहार बारे में जानकारी नहीं है। वह चर्चा में रहने के लिए मेरे खिलाफ बोलते हैं। नीतीश कुमार ने कहा कि 15 साल से हमें काम करने का मौका मिला। पहले पति-पत्नी को राज करने का मौका मिला, पहले कानून का राज नहीं था। आपराधिक घटनाएं होती थी. जब बिहार ने हमें मौका दिया तब से हम सेवा कर रहे हैं। पहले जो स्थिति थी और आज जो स्थिति है उसमें बहुत अंतर है. जिसको कोई काम करने की आदत नहीं है न ही कोई समझ है। वो कुछ भी बोलता रहता है. मेरे ऊपर बोलने से किसी को प्रचार मिलता है तो बोलो।

महिलाओं और छात्राओं को दिया प्रोत्साहन

नीतीश ने राज्य की ओर से महिलाओं और छात्राओं के लिए चलाई जा रही योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया और कहा कि अगर हम फिर से मौका मिला तो हम महिलाओं की जीवन को और भी बेहतर बनाएंगे। उन्होंने उदाहरण के तौरे पर बताया कि पुलिस में जितनी महिलाएं हमारे यहां हैं, अन्य राज्यों में नहीं है। इतना ही नहीं छात्राओं के लिए चलाई जा रही योजनाओं में और भी इजाफा करेंगे। 

योजनाओं के बारे में विस्तार से कहा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हमने राज्य में वल्र्ड बैंक से कर्ज लेकर जीविका योजना बनाई। स्थिति यह है कि जब हम गया गए तो हमने खुद स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को देखा कि जो महिलाएं पढ़ी-लिखी नहीं हैं वो भी वो भी बैंकों के बारे में जानकारी रखती हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं को आगे बढ़ाने के लिए काम किया है। क्रेडिट कार्ड योजना, कुशल युवा कार्यक्रम, हर जिले में इंजीनियरिंग काॅलेज और जिले को नई टेक्नाॅलोजी से जोड़ने का काम किया। राज्य में सात निश्चय पर तेजी से काम किया। हर घर नल का जल योजना को घर-घर तक पहुंचाया। अब आगे भी इसे बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि मौका मिला तो हर खेत मेें पानी पहुंचाएंगे।

Nitish Kumar su Twitter: "रफीगंज और इमामगंज में हुयी रैली की तसवीरें  http://t.co/bvG2RwS9yS"

 

छात्राओं को मिलेगी अधिक राशि

सीएम नीतीश ने कहा कि पहले छात्राओं को स्कूल या काॅलेजों में को भी प्रोत्साहन राशि नहीं मिलती थी, लेकिन अब इंटर पास करने पर 10 और ग्रेजुएशन करने पर 25 हजार की राशि मिलती है। लेकिन अब इंटर पास करने पर 25 हजार और ग्रेजुएशन करने पर 50 हजार की राशि मिलेगी। वहीं गांवों में जानवरों के लिए 8 से 10 पंचायत के बीच पशु चिकित्सालय का प्रावधान करेंगे। 

 वृद्धों के लिए चलाएंगे योजना

जिन वृद्धों को घर में नहीं रहने दिया जाता है, उनके लिए हम आवासीय योजना की शुरूआत करेंगे। इतना ही नहीं शहरों में भी गरीबों के लिए बहुमंजिला इमारत बनाएंगे। 

राज्य में कानून राज कायम किया

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2005 से राज्य में जंगलराज था, लेकिन अब राज्य में कानून का राज है। केंद्र से प्रकाशित होने वाले आंकड़े बताते हैं कि राज्य में कितना अपराध कम हुआ है। पहले कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी जाती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.