पाकिस्तानी मंच पर बोले थरूर- भारत में मुस्लिमों और पूर्वोत्तर के लोगों के साथ होता है भेदभाव, हमलावर हुई BJP

0
51

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने एक पाकिस्तानी मंच पर जाकर भारत की ही आलोचना की है। लाहौर लिटरेचर फेस्टिवल में बोलते हुए थरूर ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए भारत द्वारा कोविड-19 महामारी से निपटने के तरीके पर सवाल उठाए। थरूर इस फेस्टिवल में वर्चुअल तौर पर शामिल हुए थे। अपने आभासी संबोधन में भारत का मजाक उड़ाते हुए थरूर ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की भारत यात्रा और तबलिगी जमात से जुड़े कई मुद्दों को उठाया और कहा कि राहुल गांधी ने मोदी सरकार को महामारी के बारे में पहले ही सचेत किया था, लेकिन पीएम कार्रवाई करने में विफल रहे।

थरूर ने कहा अच्छा काम नहीं कर रही है सरकार

थरूर ने कहा, ‘भारत सरकार अच्छा काम नहीं कर रही है और लोगों को इस बात का एहसास है। राहुल गांधी ने फरवरी की शुरुआत में कहा कि कोविड-19 को गंभीरता से लिया जाना चाहिए अन्यथा भारत को आर्थिक तबाही का सामना करना पड़ेगा, इसलिए उन्हें इसका श्रेय मिलना चाहिए।’ थरूर ने  दिल्ली में हुई तब्लीगी जमात के आयोजन का जिक्र करते हुए कहा कि इस घटना का इस्तेमाल भारत में मुसलमानों के खिलाफ भेदभाव को सही ठहराने के लिए किया गया। शशि थरूर ने आगे कहा कि भारत में हम यही समस्या उत्तर पूर्व के लोगों के साथ देखते हैं क्योंकि वो अलग दिखते हैं इसलिए उनके साथ भेदभाव होता है।

बीजेपी हुई थरूर पर हमलावर
थरूर के बयान को लेकर बीजेपी आक्रामक हो गई है और उसने कांग्रेस पर हमला किया है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, ‘शशी थरूर ने भारत का मजाक बनाया है और भारत को एक खराब परिदृष्य से दिखाने की कोशिश की है। शशी थरूर कहते हैं कि भारत की सरकार कोविड के मैनेजमेंट में कहीं कहीं फेल हो रही है। भारत की मीडिया पोल के जरिए दिखा रही है कि जनता-जर्नादन मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से संतुष्ट है।’

Shashi Tharoor questioned Indian government during his virtual presence at the Lahore Literature Festivalपाक मंच पर बोले थरूर- भारत में मुस्लिमों से होता है भेदभाव 

मुख्य बातें

  • थरूर ने पाकिस्तानी कार्यक्रम में की भारत की आलोचना
  • थरूर डोनाल्ड ट्रम्प की भारत यात्रा और तबलिगी जमात से जुड़े उठाए
  • बीजेपी ने थरूर के बयान के जरिए कांग्रेस को घेरा, सोनिया और राहुल गांधी से पूछे सवाल

नई दिल्ली: कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने एक पाकिस्तानी मंच पर जाकर भारत की ही आलोचना की है। लाहौर लिटरेचर फेस्टिवल में बोलते हुए थरूर ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए भारत द्वारा कोविड-19 महामारी से निपटने के तरीके पर सवाल उठाए। थरूर इस फेस्टिवल में वर्चुअल तौर पर शामिल हुए थे। अपने आभासी संबोधन में भारत का मजाक उड़ाते हुए थरूर ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की भारत यात्रा और तबलिगी जमात से जुड़े कई मुद्दों को उठाया और कहा कि राहुल गांधी ने मोदी सरकार को महामारी के बारे में पहले ही सचेत किया था, लेकिन पीएम कार्रवाई करने में विफल रहे।

थरूर ने कहा अच्छा काम नहीं कर रही है सरकार

थरूर ने कहा, ‘भारत सरकार अच्छा काम नहीं कर रही है और लोगों को इस बात का एहसास है। राहुल गांधी ने फरवरी की शुरुआत में कहा कि कोविड-19 को गंभीरता से लिया जाना चाहिए अन्यथा भारत को आर्थिक तबाही का सामना करना पड़ेगा, इसलिए उन्हें इसका श्रेय मिलना चाहिए।’ थरूर ने  दिल्ली में हुई तब्लीगी जमात के आयोजन का जिक्र करते हुए कहा कि इस घटना का इस्तेमाल भारत में मुसलमानों के खिलाफ भेदभाव को सही ठहराने के लिए किया गया। शशि थरूर ने आगे कहा कि भारत में हम यही समस्या उत्तर पूर्व के लोगों के साथ देखते हैं क्योंकि वो अलग दिखते हैं इसलिए उनके साथ भेदभाव होता है।

बीजेपी हुई थरूर पर हमलावर
थरूर के बयान को लेकर बीजेपी आक्रामक हो गई है और उसने कांग्रेस पर हमला किया है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, ‘शशी थरूर ने भारत का मजाक बनाया है और भारत को एक खराब परिदृष्य से दिखाने की कोशिश की है। शशी थरूर कहते हैं कि भारत की सरकार कोविड के मैनेजमेंट में कहीं कहीं फेल हो रही है। भारत की मीडिया पोल के जरिए दिखा रही है कि जनता-जर्नादन मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से संतुष्ट है।’संबंधित खबरेंहिंदू-मुस्लिम एकता से चिढ़ है तो ‘इंडिया’ का विरोध क्यों नहीं करते?, Tanishq एड के समर्थन में आए थरूर Shashi Tharoor:शशि थरूर पर कांग्रेस के मुख्य सचेतक के सुरेश का तंज, वो नेता नहीं बल्कि अतिथि कलाकारकांग्रेस ने की 370 और 35A को फिर से बहाल करने की मांग, चिदंबरम बोले- केंद्र का फैसला असंवैधानिक

कांग्रेस के मनोस्थिति पर उठाए सवाल
डॉ. पात्रा ने कहा, ‘कोविड को लेकिर पूरा विश्व देख रहा है कि हिंदुस्तान को नरेन्द्र मोदी जी ने किस प्रकार से सुरक्षित रखा, समय से लॉकडाउन हुआ, किस प्रकार 80 करोड़ लोगों को खाद्यान्न पहुंचाने का काम किया गया और आगे छठ पूजा तक चलता रहा। 50 देशों को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन पहुंचाने का काम मोदी सरकार ने किया। इन सभी के बावजूद इस प्रकार का स्टेटमेंट देना कि भारत सरकार फेल हो गई है वह भी लाहौर में। आप सोचिए कि किस प्रकार की मन:स्थिति कांग्रेस और राहुल गांधी के मित्र शशी थरूर जी की है।’

इमरान की भाषा बोल रहे हैं चिदंबरम

सोनिया गांधी औऱ राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए संबित पात्रा ने कहा, ‘सोनिया जी, राहुल जी, प्रियंका जी, शशी थरूर जी से हम पूछना चाहते हैं कि एक बार भी आपने पाकिस्तान से पूछने की हिम्मत की कि पाकिस्तान किस प्रकार से कट्टरता दिखाता है, किस प्रकार से अपने अल्पसंख्यकों के प्रति हिंसा और अराजकता दिखाता है अपने अल्पसंख्यकों के प्रति। भारत से शशी थरूर इमरान खान की रैली को संबोधित कर रहे हैं। यहां पर अनुच्छेद 370 फिर से आ जाए जो इमरान खान चाहते हैं वहीं पी. चिदंबरम कह रहे हैं। ये क्या हो रहा है?’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.