बिहार चुनाव: पहले चरण की वोटिंग खत्म, 1066 उम्मीदवारों की किस्मत EVM में कैद

0
33

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के तहत बुधवार को 71 विधानसभा क्षेत्रों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान संपन्न हो गया. इसके साथ ही 1,066 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में बंद हो गई. इस क्रम में कहीं से कोई बड़ी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. शाम छह बजे तक के मिले आंकड़ों के मुताबिक, 53.54 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके हैं.

पहले चरण में राज्य के 16 जिलों के 71 विधानसभा क्षेत्रों में वोट डाले गए. राज्य निर्वाचन आयेाग के अनुसार, प्रथम चरण में 2.14 करोड़ मतदाताओं के लिए 31,371 मतदान केन्द्र बनाए गए थे. पहले चरण में 114 महिला समेत 1066 उम्मीदवार मैदान में हैं.

कैमूर में सबसे अधिक मतदान

आयोग के मुताबिक प्रारंभ में कई मतदान केंद्रों में ईवीएम के खराब होने की सूचना मिली थी, लेकिन बाद में इसे ठीक कर लिया गया. पांच बजे तक के मिले आंकड़ों के मुताबिक, सबसे अधिक मतदान 55.95 प्रतिशत कैमूर में दर्ज किया गया, जबकि सबसे कम मुंगेर में 43.64 फीसदी दर्ज किया गया है. प्रथम चरण के मतदान को लेकर सभी मतदान केन्द्रों पर सुरक्षा बलों की तैनाती की गई थी.

कटोरिया में सबसे कम पांच उम्मीदवार मैदान में हैं

पहले चरण के चुनाव में गया टाउन विधानसभा सीट पर सबसे ज्यादा 27 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं जबकि बांका जिले के कटोरिया विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम पांच उम्मीदवार मैदान में हैं. पहले चरण के चुनाव में जमुई से अंतर्राष्ट्रीय शूटर श्रेयसी सिंह भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं. इसके अलावा गया टाउन से भाजपा के प्रेम कुमार, इमामगंज से बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी मैदान में हैं और उन्हें राजद के उदय नारायण चौधरी टक्कर दे रहे हैं.

प्रथम चरण के चुनाव में एनडीए की ओर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 29, जनता दल युनाइटेड के 35, हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के छह और विकासशील इंसान पार्टी के एक प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं जबकि महागठबंधन में राष्ट्रीय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.