सीएम नीतीश का बड़ा एलान, रोजगार के लिए सभी बिहारियों को 10-10 लाख रुपये का आर्थिक मदद करेंगे

0
33

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के बाद सभी पार्टियों के नेता दूसरे और तीसरे चरण के उम्मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार कर रहे हैं. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी जेडीयू उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित करने के लिए चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे हैं. वाल्मीकि नगर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने एक बड़ा एलान किया.चम्पारण के ऐतिहासिक धरती को संबोधित करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा की उन्होंने अपने कार्यकाल की सारी महत्त्वपूर्ण योजनाओं की शुरुआत इसी पावन धरती से की है. उन्होंने कहा कि, “हम तो सब काम चंपारण से ही शुरू करते हैं, चंपारण को मूल स्थान मानते हैं. चंपारण बापू की भूमि है, सत्याग्रह की भूमि है.”

इस चुनाव के सबसे गंभीर मुद्दे, रोजगार पर बोलते हुए नीतीश कुमार ने कहा, “जो 10 लाख रूपए की सहायत राशि (5 लाख का अनुदान और 5 लाख का ऋण बिना किसी बयाज के) नए रोजगार के लिए हम लोग अनुसूचिति जाति, जनजाति और अति पिछड़े वर्ग को देते थे. उसे अब सभी वर्ग के लोगों को दिया जायेगा ताकि नयी और उन्नत तकनीक से रोजगार सृजन हो सके.”

लालू राबड़ी राज के दौरान खस्ताहाल रहे पश्चिमी चम्पारण के हालात का ज़िक्र करते हुए श्री कुमार ने कहा, “क्या हाल था पहले पूरे इलाके का, शाम होने के बाद कोई घर से निकलने की हिम्मत नहीं करता था. अपराध की कितनी घटनाएं होती थीं, सबसे पहले हमने अपराध को नियंत्रित करने का काम किया.”

साथ ही साथ उन्होंने कहा, “हमने यहीं से कहा था न्याय के साथ विकास के मार्ग पर जाएंगे.  न्याय के साथ विकास का मतलब है, हर क्षेत्र का विकास, हर तबके का उत्थान. अनुसूचित जाति व जनजाति को आरक्षण का प्रावधान किया, सबको इज्जत मिली है, सबको सम्मान मिला है.”

वहीं वाल्मीकिनगर से जदयू प्रत्याशी धीरेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ़ रिंकू सिंह ने नीतीश कुमार को पूर्वी चम्पारण के विकास का सारथी और पूरे बिहार का विकास पुरुष बताते हुए कहा, “पेट भरने के लिए रोटी खाना अति आवश्यक होता है, वैसे ही उन्नत बिहार, विकसित बिहार और सुस्रक्षित बिहार के लिए नीतीश कुमार का मुख्यमंत्री बनना जरुरी है.”

साथ ही उन्होंने जनता से अपने समर्थन में वोट करने की अपील करते हुए कहा, “15 वर्ष पूर्व जिस चम्पारण को मिनी चम्बल के नाम से जाना जाता था, आज वह एक विकसित जिले के रूप में देखा जा रहा, ये नीतीश कुमार जी की ही देन है.” 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.