नड्डा बोले- जंगलराज वाले 10 लाख नौकरी का कर रहे वादा, फिर उनके शासनकाल में 30 लाख लोगों ने क्यों किया पलायन?

0
139

लौरिया में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने लालू परिवार पर हमला बोला. नड्डा ने कहा कि जंगलराज वाले आज बिहार की जनता से बोल रहे हैं कि 10 लाख नौकरी देंगे. पहले बिहार की जनता को जवाब दो कि तुम्हारे कार्यकाल में 25 से 30 लाख बिहार से पलायन क्यों कर गए.

ठेकेदार और इंजीनियरों की होती थी हत्या

नड्डा ने कहा कि जंगलराज में ठेकेदारों को मौत के घाट उतारा जाता था. इंजीनियरों को मारा जाता था. अपहरण उद्योग चलता था, डॉक्टर खौफ के माहौल में काम करते थे. आज राजद और माले दोनों मिल गए और इनके साथ कांग्रेस है. क्या ऐसे लोगों को आप वोट देंगे.

राहुल-तेजस्वी क्यों थे गायब

नड्डा ने कहा कि राहुल गांधी और तेजस्वी यादव दोनों कोरोना संक्रमण काल की शुरुआत में बिहार से गायब थे. ये लोग दिल्ली बैठे थे, क्योंकि तेजस्वी यादव को यहां कोरोना से डर लगता था. कोरोना में बिहार की लोगों की चिंता नीतीश कुमार की सरकार और भाजपा कार्यकर्ताओं ने की है. चुनाव में लोग आपको गुमराह करने की कोशिश करेंगे, आपको सिर्फ ये ध्यान में रखना है कि बिहार के विकास के लिए सड़क, अस्पताल, मेडिकल कॉलेज जैसे विकास कार्य किस सरकार ने किया है.

महिलाओं को मिला सम्मान

नड्डा ने कहा कि नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री बनने से पहले बिहार की लड़कियां बीच में ही स्कूल की पढ़ाई छोड़ देती थीं. आज लड़कियां शान के साथ पोशाक पहनकर साइकिल में स्कूल जाती हैं. ये बिहार की महिलाओं का सम्मान है. विधानसभा में विपक्ष के नेता का अनुपस्थित होना बिहार की जनता के साथ धोखा है. इसलिए ऐसे लोगों को आराम दीजिए और विकास के कार्य करने वाले नीतीश कुमार जी को वोट दीजिए.

अब विकास की होती है बातें

नड्डा ने कहा कि पीएम मोदी ने भारतीय राजनीति की संस्कृति बदली तो, अब तो जंगलराज वाले भी मुखौटा लगाकर अच्छी-अच्छी बातें करते हैं, लेकिन जब वो विपक्ष के नेता बनते हैं तो वो विधानसभा के बजट सत्र में एक भी दिन नहीं जाते. बिहार में आज से 15 साल पहले कभी भी विकास की चर्चा नहीं होती थी. आज चुनाव में जंगलराज के युवराजों को अगर विकास की चर्चा करनी पड़ रही है तो ये पीएम मोदी के कारण है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.