इस साल अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अनुमति नहीं, DGCA ने रोक 31 दिसंबर तक बढ़ाई

0
43

कोरोना को देखते हुए केंद्र सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर जो रोक लगाई हुई है उसे 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया है, यानि 2020 में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का कमर्शिलय ऑपरेशन शुरू नहीं होने वाला है। गुरुवार को नागरिक उडयन महानिदेशालय (DGCA) की तरफ से इसको लेकर जानकारी दी गई है। DGCA ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को लेकर जो रोक लगाई गई है उसे 31 दिसंबर रात 11.59 बजे तक बढ़ा दिया गया है। हालांकि DGCA ने जिन अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अनुमति दी हुई है उनके ऊपर और मालवाहक उड़ानों पर यह आदेश लागू नहीं होगा। 

दुनियाभर में फैली कोरोना वायरस महामारी के चलते केंद्र सरकार ने जब पहली बार लॉकडाउन की घोषणा की थी तो उसके साथ अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर भी रोक लगा दी गई थी। भारत में 23 मार्च से अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ान सेवाएं बंद हैं। हालांकि, मई से ‘वंदे भारत मिशन’ के तहत और जुलाई से द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ व्यवस्था के तहत कुछ देशों के लिए विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवाओं का परिचालन हो रहा है। बीच में सरकार ने विदेशों में फंसे भारतीयों की स्वदेश वापसी के लिए वंदे भारत मिशन शुरू किया था। 

लॉकडाउन की घोषणा के साथ सरकार ने घरेलू उड़ानें भी रोक दी थी लेकिन अब ज्यादातर घरेलू उड़ानों का संचालन शुरू हो चुका है, हालांकि उड़ानों के लिए कुछ कोरोना गाइडलाइंस हैं और यात्रियों तथा उड़ानों को उन गाइडलाइंस का पालन करना जरूरी है। देश में घरेलू उड़ान सेवा करीब दो महीने तक बंद रहने के बाद 25 मई से दोबारा शुरू की गई थी। 

अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक 31 दिसंबर 2020 तक बढ़ी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.