बिहार विधानसभा के समानांतर बनी ‘शैडो गवर्नमेंट’, जानिए क्या है पूरा मामला और कौन बना शैडो CM

0
51

बिहार में बुधवार को एक ओर जब विधानसभा में अध्यक्ष पद का चुनाव हो रहा था, उसी वक्त पटना में एक दूसरी बिहार सरकार का शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया जा रहा था। चौंकिए मत, यह सच है। यह सरकार बिहार की एनडीए सरकार के समानांतर काम करेगी। इसे ‘शैडो गवर्नमेंट’ कहा जायेगा। इस सरकार की मुख्यमंत्री पटना की डॉ. सुमन लाल को बनाया गया है। उन्हें रिटायर्ड एडीजे बीरेंद्र पाठक ने पद के प्रति कर्तव्य और निष्ठा की शपथ दिलाई।

क्या होता है ‘शैडो गवर्नमेंट’

इस नई सरकार के बारे में और पढ़ने से पहले जानिये कि ‘शैडो गवर्नमेंट’ आखिर होता क्या है? यह असल में सिविल सोसाइटी के द्वारा बनायी गई एक तरह की समानांतर सरकार है, जो राज्य के एक आदर्श सरकार की छवि दिखाती है। बिहार में ‘जागो’ नाम की संस्था के अंतर्गत इस ‘शैडो गवर्नमेंट’ का गठन किया गया है। इस संस्था के संयोजक गगन गौरव के अनुसार पिछले तीन माह से इस प्रोजेक्ट पर काम किया जा रहा था। इस ‘शैडो गवर्नमेंट’ के माध्यम से बिहार के लिए भविष्य की संभावनाओं को इसकी क्षमता और सकारात्मक पक्ष के साथ सामने लाया जाएगा।

सरकार के अन्य मंत्रियों ने भी ली शपथ

बिहार विधानसभा के सत्र 2020-25 के लिए बनी इस समानांतर ‘शैडो गवर्नमेंट’ में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के अलावा 31 मंत्रियों का भी शपथ ग्रहण कराया गया। सभी को रिटायर्ड एडीजे बीरेंद्र पाठक ने पद के प्रति कर्तव्य और निष्ठा की शपथ दिलाई। मुख्यमंत्री डॉ. सुमन लाल ने कहा कि ‘शैडो गवर्नमेंट’ आमजनों एवं सरकार को जगाने के लिए है। हमलोग पूरी ईमानदारी, दृढ़ता और मेहनत से बिहार को उन्नत बनाने के फार्मुले को सरकार और आमजनों के सामने रखेंगे। उपमुख्यमंत्री के पद पर प्रो. देवाज्योति मुखर्जी को शपथ दिलाई गई। उनके पास उद्योग, पर्यटन एवं लाइफ स्किल प्रभार भी होगा। उन्होंने कहा कि कई देशों में ‘शैडो गवर्नमेंट’ की परंपरा है। भारत में तीन बार इसका प्रयोग हुआ है। बिहार में पहली बार हमलोग यह प्रयोग करने जा रहे हैं। हम पूरे पांच वर्षों तक इसे निष्ठापूर्वक चलायेंगे।

कुछ प्रमुख मंत्रियों के नाम

इस सरकार में डॉ. अखिलेश को गृह, अभिषेक मिश्रा को कला एवं संस्कृति, डॉ. रत्नेश को स्वास्थ्य, एडवोकेट राजेश को कानून, नीरज को नगर विकास, भाई पुरूषोत्तम को धर्म एवं सामाजिक सद्भाव, शांता कुमार को श्रम और सुनील सिन्हा को संसदीय कार्य आदि विभागों का प्रभार दिया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन फ्रेजर रोड के हेम प्लाजा के प्रथम तल पर स्थित संस्था के प्रधान कार्यालय में किया गया। जागो के तत्वावधान में बने इस शेडो गवर्नमेंट का प्रधान कार्यालय प्रथम तल, हेम प्लाजा, फ्रेजर रोड, पटना होगा।

बिहार में ‘शैडो गवर्नमेंट’ के उद्देश्य क्या होंगे

इस बारे में गगन गौरव कहते हैं – एक आदर्श सरकार की कार्य-योजना, कार्य-पद्धति और नीतियों का मॉडल हमलोग प्रस्तुत करेंगे। बिहार के विकास के अवरोधक विन्दुओं एवं इसके संगत समाधान को सरकार एवं जनता के सामने रिसर्च एवं व्यवहार के आधार पर पब्लिश किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.