नक्सलबाड़ी में दिखेगी देश के नक्सली मूवमेंट की स्टोरी, एक्शन, ड्रामा, थ्रिलर का धुआंधार अंदाज

0
195

अगर आप इस विंटर में किसी ऐसी वेब सीरीज को देखने की चाहत लिए बैठे हैं जो रिएलिटी के बेहद पास हो और देश की हकीकत से जुड़ी हो तो बस जान लीजिए, आपकी ख्वाहिश पूरी होने ही वाली है. एक्शन, ड्रामा, थ्रिलर से लबरेज ZEE5 की वेब सीरीज ‘नक्सलबाड़ी’ का प्रीमियर 28 नवंबर को होने जा रहा है. ZEE5 ने ऑडियंस के लिए इस अपकमिंग वेब सीरीज का ट्रेलर पहले ही लॉन्च कर दिया था. इसका ट्रेलर 2 मिनट का है और धुआंधार है. 4 नवंबर को रिलीज किए गए इसके ट्रेलर को अब तक 94 लाख लोग देख चुके हैं.

सीरीज के ट्रेलर में ही आपको घातक और एडवांस हथियार, पुलिस के छूटते पसीने, नक्सलियों के बुलंद हौंसले दिखाई देते हैं. ट्रेलर में नक्सलियों के धमाके दिखाई देते हैं. झूलती लाशें, उनपर टंगी ‘लाल सलाम’ की तख्तियां दिखती हैं. नक्सलियों की साजिशें, पुलिस का ऑपरेशन परत दर परत आगे बढ़ती कहानी की एक झलक सामने लाता है.

पार्थो मित्रा के निर्देशन में बनी इस सीरीज बढ़िया निर्देशन की कला के साथ-साथ उम्दा स्क्रीनप्ले और डायलॉग देखने को मिलते हैं, जिन्हें पुलकित ऋषि और प्रखर विहान ने लिखा है. इस सीरीज का निर्माण अर्जुन सिंह बरन और कार्तिक निशंदर ने किया है. फोटोग्राफी के डायरेक्टर के तौर पर हरी नायर और मोधुरा पालित ने वही कैप्चर किया है, जो निर्देशक मित्रा ने सोचा था. एक्शन डायरेक्टर एजब गुलाब ने एक्शन सीक्वेंसेज को कमाल का बनाया है तो वहीं परेश शाह का बैकग्राउंड म्यूजिक आपको इस थ्रिलर सीरीज से बांधे रखता है.

9 एपिसोड की वेब सीरीज

‘नक्सलबाड़ी’, ZEE5 की 9 एपिसोड की ओरिजिनल वेब सीरीज है. यह भारत में नक्सली आंदोलन को टक्कर देती एक कहानी है जिसमें हर तरह का ड्रामा है और साथ ही है धमाकेदार एक्शन भी. ये एक ऐसी दमदार सीरीज है जो आपकी पलकों को झपकने नहीं देगी और आप एक के बाद इसे बिना गैप लिए देख जाएंगे.

हाई थ्रिल एक्शन

सीरीज में दिख रही लड़ाई में नक्सली और सरकार अपनी अपनी वजहों से एक दूसरे के सामने खड़े हैं. नक्सलबाड़ी, सामाजिक और राजनीतिक तस्वीर को शानदार तरीके से अंडरलाइन करती है. नक्सली मूवमेंट को हवा किस वजह से मिलती है, इसपर भी ध्यान डाला गया है. सीरीज में, सरकार और नक्सिलयों के बीच चलते द्वंद की वजह से पैदा होता है हाई थ्रिल ऐक्शन. इसके साथ ही, यह इस सीरीज में आप प्यार और रिश्ते की भी एक कहानी देखेंगे.

STF एजेंट की कहानी

ऐसा पहली बार हो रहा है, जब कोई वेब सीरीज, देश के नक्सली आंदोलन की तस्वीर को लेकर सामने आ रही हो. इससे पहले, आखिरी बार प्रकाश झा की ‘चक्रव्यूह’ को दर्शकों ने देखा था. हालांकि, ‘नक्सलबाड़ी’ सीरीज, ‘चक्रव्यूह’ से पूरी तरह अलग है. नक्सली आंदोलन के सेंटर में रखते हुए, ‘नक्सलबाड़ी’, एक एसटीएफ जवान की कहानी को दिखाती है और सरकार के फैसलों को भी सामने लाती है. एसटीएफ एजेंट का किरदार राजीव खंडेलवाल ने निभाया है. यह फिल्म सरकार और नक्सलियों के बीच लड़ाई की जमीन को नहीं दिखाती है बल्कि सोशल नेरेटिव को बदले बिना हर पक्ष की ऐसी वजहों को सामने लाती है जिनके लिए वह लड़ रहे हैं.

एंटी नक्सल ऑपरेशन

हालांकि, यह सामाजिक-राजनीतिक भागीदारी को भी बारीकी से अंडरलाइन करती है जो नक्सलियों की हिंसा को जन्म देता है. एसटीएफ एजेंट को गढ़चिरौली में नक्सली मूवमेंट से निपटने के लिए भेजा जाता है. यह मिशन बेहद खतरनाक मोड़ से गुजरता है और एसटीएफ एजेंट इसके केंद्र में आ जाता है. हिंसात्मक नक्सली आंदोलन की परतें खोलने, उनके गहरे सच और लंबी प्लानिंग को सामने लाने की कोशिश में, एजेंट को अपनो को खोने के दौर से गुजरना पड़ता है और यहीं पर दोस्ती और मोहब्बत की कहानी भी जुड़ती है.

मुख्य किरदार

सीरीज में, राजीव खंडेलवाल, राघव के रूप में, टीना दत्ता, केतकी के रूप में, श्रीजीता डे, महिला नक्सली की भूमिका में, सत्यदीप मिश्रा, पुरुष नक्सली पाहन के किरदार में और आमिर अली, मेसवानी के किरदार में नजर आ रहे हैं.

एक एक्टर या एक किरदार जो सभी को हैरान कर देगा वो है आमिर अली का किरदार केसवानी. अपने चॉकलेट बॉय के अवतार को छोड़कर आमिर अली एक चालाक इंसान का किरदार निभा रहे हैं, जिसके दिमाग में क्या चल रहा है या वो क्या करेगा कोई नहीं जानता. अली का किरदार रहस्य से भरा हुए है और दर्शकों को अपने दिमाग के अन्दर की बात पता चलने नहीं देता. वो अली ही हैं जो पूरे गेम को कंट्रोल करते हैं और आखिरी एपिसोड में सारा सीन की पलटकर रख देते हैं.

डायरेक्शन

वेब सीरीज ‘नक्सलबाड़ी’ का डायरेक्शन पार्थो मित्रा ने किया है. पार्थो को हिंदी फिल्म और टीवी-डिजिटल इंडस्ट्री में काम के लिए खासी पहचान मिल चुकी है. एक डायरेक्टर के तौर पर किए गए उनके काम में, ‘बड़े अच्छे लगते हैं’, ‘कदम से’ और ‘इतना करो न मुझे प्यार’ हैं. पार्थो ने बॉलीवुड फिल्म ‘कोई आप सा’ और वेब सीरीज ‘Hum – I’m Because of Us’ का भी डायरेक्शन किया है.

निर्देशक—पार्थो मित्रा
निर्माताः अर्जुन सिंह बारान और कार्तिक निशंदर
एक्शन डायरेक्टरः ऐजाज गुलाब
डीओपीः हरी नायर, मोधुरा पालित
स्क्रीन प्ले और डायलॉगः पुलकित ऋषि और प्रखर विहान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.