बीजेपी की सहयोगी जेजेपी का बड़ा बयान, कहा- MSP पर आंच आई तो दुष्यंत चौटाला दे देंगे इस्तीफा

0
70

हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में चल रही सरकार की सहयोगी जननायक जनता पार्टी (JJP) ने किसान आंदोलन पर बड़ा बयान दिया है। पार्टी ने कहा है कि हरियाणा सरकार में दुष्यंत चौटाला के उपमुख्यमंत्री रहते हुए फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर किसी तरह की आंच नहीं आने दी जाएगी। अगर, किसानों को MSP पर नुकसान हुआ तो फिर दुष्यंत चौटाला पद से इस्तीफा दे देंगे। जेजेपी ने केंद्र सरकार से आंदोलनरत किसानों की एमएसपी आदि से जुड़ीं मांगों का जल्द हल निकालने को कहा है।

‘MSP पर किसी तरह की आंच नहीं आएगी’

जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रतीक सोम ने कहा, ‘हम किसानों से कहना चाहते हैं कि डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के चंडीगढ़ (राजधानी) में रहते हुए MSP पर किसी तरह की आंच नहीं आएगी। बावजूद इसके अगर किसानों को एमएसपी को लेकर किसी तरह का नुकसान होता दिखा तो पहला इस्तीफा दुष्यंत चौटाला का होगा। जेजेपी हमेशा किसानों के साथ खड़ी रहने वाली पार्टी है।’

‘जेजेपी एक प्रो-फार्मर पार्टी है’
हार्वर्ड लॉ स्कूल से भी पढ़ाई कर चुके और पेशे से सुप्रीम कोर्ट के वकील JJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रतीक सोम ने कहा, ‘चौधरी देवीलाल की विचारधारा वाली जेजेपी एक प्रो-फार्मर पार्टी है। जेजेपी ने केंद्र सरकार से किसानों की सभी मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने की मांग की है। एमएसपी पर सरकार से ठोस आश्वासन मिलना जरूरी है। उम्मीद है कि केंद्र सरकार किसानों से बातचीत कर मुद्दों को सुलझाएगी, जिससे गतिरोध दूर हो सकेगा।’

‘आम सहमति से हल निकालना चाहिए’
इससे पूर्व जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद अजय सिंह चौटाला, केंद्र सरकार से एमएसपी पर कानून बनाने की मांग कर चुके हैं। उन्होंने बीते मंगलवार को एक बयान में कहा था, ‘किसानों की मांगों पर केंद्र को विचार करते हुए आम सहमति से हल निकालना चाहिए। सरकार को आंदोलनरत किसानों की परेशानी को जल्द से जल्द दूर करना चाहिए। एमएसपी को एक्ट में शामिल करने पर भी केंद्र को विचार करना चाहिए।’

किसान आंदोलन के कारण JJP पर दबाव
दरअसल, हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर सरकार को सहयोग देने वाली JJP का आधार वोटर जाट और किसान माने जाते हैं। किसान आंदोलन के कारण NDA सहयोगी JJP पर काफी दबाव है। पार्टी अपने कोर वोटर्स को नाराज नहीं करना चाहती। सूत्रों के मुताबिक, यही वजह है कि हरियाणा में किसानों के विरोध-प्रदर्शन को पार्टी के नेता समर्थन दे चुके हैं। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला आश्वासन दे चुके हैं कि उनके रहते किसानों के हितों पर आंच नहीं आने दी जाएगी। हरियाणा में पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में बहुमत से BJP के चूक जाने पर JJP के 10 विधायकों के समर्थन से मनोहर लाल खट्टर की सरकार चल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.