बिहार: 9 दिसंबर के बाद से कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार, बढ़ेगा कोहरा

0
36

9 दिसंबर के बाद से बिहार में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार दिख रहे हैं। इधर पर्वतीय इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बर्फबारी और बारिश की स्थिति बनी है। अगले कुछ दिनों में पश्चिमी विक्षोभ का असर मैदानी इलाकों में दिखेगा। नौ दिसंबर से सूबे के अधिकतर शहरों का तापमान नीचे आएगा। 

बर्फीली हवाओं के प्रवाह की वजह से कनकनी बढ़ेगी और न्यूनतम पारा रात में सताएगा। कोल्ड डे व कोल्ड वेव की स्थिति भी बन सकती है। फिलहाल सूबे में चक्रवाती हवा का क्षेत्र बना हुआ है, जिसकी वजह से न्यूनतम तापमान चढ़ा हुआ है। इस स्थिति से निजात मिलने और पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव पसरने के बाद सूबे में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार हैं।
 
इधर, मौसमविदों का कहना है कि अगले 48 घंटों में धुंध और कोहरे की स्थिति इसी तरह बनी रहेगी। नदी – तालाबों के आसपास कोहरा छाने लगा है। धीरे-धीरे यह विस्तार को प्राप्त करेगा। मंद-मंद हवा चलने से प्रदूषक अभी वायुमंडल के निचले सतह पर जमा हो जा रहे हैं, जिससे धुंध की चादर आसमान में पसरी रह रही है। तेज हवाओं के प्रवाह से ही धुंध से निजात मिलने के आसार हैं। जिसकी संभावना अभी कम ही दिख रही है। 

हिंदी न्यूज़   ›   बिहार   ›   Weather Update: 9 दिसंबर के बाद से बिहार में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार, धूंध और कोहरे छाए रहेंगे

Weather Update: 9 दिसंबर के बाद से बिहार में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार, धूंध और कोहरे छाए रहेंगे

पटना। मुख्य संवाददाता  | Published By: Sunil Abhimanyu

delhi cold

बिहार में 9 दिसंबर के बाद से बिहार में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार दिख रहे हैं। इधर पर्वतीय इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बर्फबारी और बारिश की स्थिति बनी है। अगले कुछ दिनों में पश्चिमी विक्षोभ का असर मैदानी इलाकों में दिखेगा। नौ दिसंबर से सूबे के अधिकतर शहरों का तापमान नीचे आएगा। 

बर्फीली हवाओं के प्रवाह की वजह से कनकनी बढ़ेगी और न्यूनतम पारा रात में सताएगा। कोल्ड डे व कोल्ड वेव की स्थिति भी बन सकती है। फिलहाल सूबे में चक्रवाती हवा का क्षेत्र बना हुआ है, जिसकी वजह से न्यूनतम तापमान चढ़ा हुआ है। इस स्थिति से निजात मिलने और पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव पसरने के बाद सूबे में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार हैं।
 
इधर, मौसमविदों का कहना है कि अगले 48 घंटों में धुंध और कोहरे की स्थिति इसी तरह बनी रहेगी। नदी – तालाबों के आसपास कोहरा छाने लगा है। धीरे-धीरे यह विस्तार को प्राप्त करेगा। मंद-मंद हवा चलने से प्रदूषक अभी वायुमंडल के निचले सतह पर जमा हो जा रहे हैं, जिससे धुंध की चादर आसमान में पसरी रह रही है। तेज हवाओं के प्रवाह से ही धुंध से निजात मिलने के आसार हैं। जिसकी संभावना अभी कम ही दिख रही है। 

ऐसा रहा सूबे के शहरों का तापमान
पटना में शनिवार को ठंड की स्थिति सामान्य रही। सुबह में धुंध की स्थिति होने की वजह से लोग घरों से देर से निकले। दिन में धूप निकली लेकिन यह प्रभावहीन रही। शाम ढलते ही फिर से धुंध की बढ़ोतरी देखी गई। पटना का अधिकतम तापमान 25.6 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम पारा सामान्य से थोड़ा ऊपर 12.4 डिग्री सेल्सियस रहा। गया राज्य में सबसे ठंडा रहा, जहां अधिकतम तापमान 25.4 जबकि न्यूनतम पारा 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भागलपुर में अधिकतम 25.1 जबकि न्यूनतम 13.8 जबकि पूर्णिया में अधिकतम 25.1 जबकि न्यूनतम 14.7 डिग्री दर्ज किया गया। पटना और पूर्णिया मे सुबह में आर्द्रता 96 प्रतिशत रही। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.