किसानों का भारत बंद 11 बजे से लेकिन बिहार में राजनीतिक पार्टियाँ सुबह से सड़कों पर, दरभंगा-खगड़िया में रेल ट्रैक जाम किया

0
42

कृषि कानून की वापसी को लेकर भारत बंद का बिहार में सुबह-सुबह असर दिखने लगा। दरभंगा के लहेरियासराय स्टेशन पर अहले सुबह कोलकाता-जयनगर गंगासागर एक्सप्रेस को रोक दिया गया। नालन्दा के बिहारशरीफ में बंद के समर्थन में माले कार्यकर्ता अहले सुबह सड़क पर उतर आए और भारत बंद को समर्थन करने की अपील कर रहे हैं।

बंद को लेकर प्रशासन 11 बजे से तैयारी कर रहा था लेकिन भाकपा माले, सीपीआई के साथ अन्य समर्थक दल सुबह से ही सड़क पर उतर गए। इससे बंदी सुबह 6 बजे से ही प्रभावी हो गई। इसका आम इंसान पर बड़ा असर देखने को मिला। ट्रेन और बसों के साथ आम इंसान से जुड़ी हर सुविधाओं को बाधित करने का प्रयास किया गया, जिससे पूरे प्रदेश में लोगों को काफी परेशानी हुई।

माले समर्थकों का हंगामा

खगड़िया में भारत बंद को लेकर 6 बजे से ही राजद के कुछ कार्यकर्ताओं ने राजेंद्र चौक पर ट्रकों को इस कदर रुकवा दिया कि हर तरफ का रास्ता जाम हो गया।नालंदा में राजद कार्यकर्ता सुबह ही झंडा बैनर लेकर सड़क पर उतर गए और जमकर विरोध किया। वह राष्ट्रीय राजमार्ग चोरा बागीचा के पास जमकर बवाल किए। सड़क पर टायर जलाकर आगजनी के साथ नारेबाजी की। एनएच 78 पर समेरा के पास भी जमकर बवाल किया। राजद कार्यकर्ताओं ने राजगीर दिल्ली श्रमजीवी एक्सप्रेस को बिहारशरीफ में रोक दिया।

उधर, सहरसा में कृषि कानून वापसी को लेकर नंदलाली हाल्ट पर सहरसा-सुपौल जाने वाली ट्रेन को रोक दिया गया। भाकपा माले युवा नेताओं ने वहां विरोध प्रदर्शन किया। यह माना जा रहा था कि वाम दल, राजद और कांग्रेस के समर्थक 11 बजे से नहीं, सुबह-सुबह ही सड़कों पर उतर जाएंगे। ये बंद समर्थक सुबह से ही सड़कों और रेल पटरियों पर उतर कर हंगामा कर रहे हैं।

पटना में भी सुबह से विरोध का जाम
विरोध प्रदर्शन सुबह से होने के कारण पटना में महाजाम लग गया। खुसरूपुर मोड़ से लेकर फतुहा तक लंबा जाम लग गया। वाहनों की पूरी लाइन लग गई। विरोध कर रहे दलों ने कोई भी गाड़ी आगे नहीं बढ़ने दी।

किसानों के आह्वान पर भारत बंद के दौरान बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में बंद समर्थकों ने कई जगहों पर ट्रैफिक जाम किया। वहीं जीरो माइल पर राजद कार्यकर्ताओं उग्र प्रदर्शन करते हुए सड़क पर आगजनी कर ट्रैफिक रोक दिया है। बिहार में कई जिलों में महागठबंधन के समर्थकों ने हाईवे जाम कर दिया है। वहीं कई जिलों ट्रेनों के भी रोके जाने की सूचना है।

बंद को लेकर बांका में असर दिख रहा है। सुबह वामदल राजद एवं कांग्रेस के नेताओं के द्वारा बाजार में जुलूस निकाला गया तथा दुकानदारों से बंद रखने की अपील की गई। बांका में बाजार पूरी तरह बंद है हालांकि वाहनों का चलना छिटपुट जारी है लोग दैनिक कार्य के लिए निकले हैं लेकिन कुहासा ने बंदी को जबरदस्त समर्थन किया है सुबह से ही अब तक घना कोहरा छाया हुआ है।

सुपौल में मंगलवार अहले सुबह महागठबंधन के कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए। राजद, वाम दल और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सुबह लगभग 8 बजे ही लोहिया नगर रेलवे ढाला को जाम कर ट्रेन परिचालन और एनएच 327 पर सड़क परिवहन को बंद कर दिया। बाद में सहरसा -राघोपुर 05516 डाउन ट्रेन को भी लोगियानगर रेलवे ढाला के पास रोक दिया गया। ट्रेन लगभग 1 घंटे विलंब हो चुकी है। बंद समर्थकों ने कृषि कानूनों को अविलंब वापस लेने, न्यूनतम समर्थन मूल्य को कानूनी दर्जा देने आदि की मांग करते हुए केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

भारत बंद को लेकर बिहार पुलिस अलर्ट पर है। पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के एसएसपी व एसपी को हर हाल में विधि-व्यवस्था बनाए रखने का निर्देश दिया है। पटना समेत कुछ जिलों को बंद के मद्देनजर अतिरिक्त बल भी मुहैया कराया गया है। बंद के दौरान हंगामा न हो इसके लिए पुलिस पूरी तरह सतर्क है। सभी जिलों की पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। उन्हें शांति व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं। कहीं कोई तोड़फोड़ या हिंसा होती है तो पुलिस असामाजिक तत्वों के साथ सख्ती से निपटेगी। वहीं पटना जिला प्रशासन ने 40 मजिस्ट्रेट की तैनाती की है। प्रत्येक चौक-चौराहे पर मजिस्ट्रेट व पुलिस पदाधिकारियों की तैनाती की गई है।

जहानाबाद-सुपौल में ट्रेन रोकी

जहानाबाद में बंद समर्थकों ने पलामू एक्सप्रेस को रोक दिया. इस दौरान जमकर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान पुलिस समझाने की कोशिश करती रही, लेकिन वह समझने को तैयार नहीं थे. राजगीर नई दिल्ली श्रमजीवी एक्सप्रेस को राजद कार्यकर्ताओं ने पावापुरी हाल्ट पर रोकने की कोशिश की. ज्यादा कोहरा होने के कारण ट्रैक पर खड़े राजद कार्यकर्ताओं का हुजूम के ट्रेन चालक देख नहीं पाया जिसके कारण जिस जगह पर खड़े होकर विरोध करते थे वहां पर ट्रेन नही रुकी,जिसके कारण राजद कार्यकर्ताओं को रेल की पटरी से कूदकर अपनी जान बचानी पड़ी. गनीमत यह रही कि किसी को कुछ नहीं हुआ. सहरसा -राघोपुर 05516 डाउन ट्रेन को भी लोहियानगर रेलवे ढाला के पास रोक दिया गया. केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

बाजारों और बस स्टैंड पर सन्नाटा पसरा

जहानाबाद और अरवल जिले में कृषि कानून के खिलाफ राजद, माले समेत अन्य दलों के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे. सुबह से ही चौक चौराहों पर झंडा बैनर लेकर महागठबंधन के कार्यकर्ता कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन किया. काको मोड़, अरवल मोड़ के अलावा अन्य चौक चौराहों को जाम कर दिया गया. इस कारण वाहनों की लंबी कतार लग गई. आंदोलन में शामिल लोग केंद्र सरकार खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे. वहीं बाजारों और बस स्टैंड पर सन्नाटा पसरा हुआ है. बसों तथा अन्य वाहनों का परिचालन भी करीब करीब बंद है.

भारत बंद के दौरान रीगा के पूर्व विधायक अमित कुमार टुन्ना सिंघवाहिनी पंचायत के चर्चित मुखिया रितु जायसवाल समेत अन्य कई नेता उतरे सड़क पर, सीतामढ़ी के मेहसौल चौक पर धरने पर बैठ कर रहे हैं प्रदर्शन.

LIVE Bharat Bandh In Bihar : बिहार में गहराने लगा बंद का असर, आम इंसान से जुड़ी हर सुविधाओं को बाधित करने का प्रयास
बिहार में गहराने लगा बंद का असर

बिहार में अब बंद का असर गहराता दिख रहा है. उत्तर से दक्षिण बिहार तक जगह-जगह भारत बंद समर्थक सड़कों पर उतर आए हैं. हर शहर के प्रमुख चौराहों पर महागठबंधन के कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं. पटना, गया, जहानाबाद, अरवल, औरंगाबाद, भोजपुर, बक्सर में भी बंद समर्थक सड़कों पर निकलने लगे हैं.

किसान आंदोलन को लेकर राजधानी में समर्थन में खड़े राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता उग्र नजर आ रहे हैं। जगह-जगह चक्का जाम करने के अलावा रेल को भी रोक रहे हैं। इस बीच मसौढ़ी में बंद के दौरान माले नेता की गिरफ्तारी भी हुई। किसान विरोधी बिल के खिलाफ रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन कर रहे माले समर्थक को तारेगना जीआरपी ने कार्रवाई करते हुए ट्रैक से उठाकर बाहर कर दिया। हालाकि पहले पुलिस और माले समर्थक के बीच तीखी झड़प भी हुई। झड़प के बाद भाकपा माले नेता कमलेश कुमार को हिरासत में लिया गया।

पूर्णिया जिले में किसान नेता अनिरुद्ध मेहता ने अपने समर्थकों के साथ भारत बंद करवाया । पूर्णिया के बनभाग चौक पर भारत बंद का असर दिखा जिसके कारण मधेपुरा सहरसा से पूर्णिया की ओर आने वाले आवागमन को पूर्णता ठप कर दिया गया है । वहीं सुबह के 9:00 बजे तक शहर में भारत बंद का असर नहीं देखा जा रहा है ।

 फारबिसगंज में भी व्यापक असर देखने को मिला है सुबह से ही राजद कार्यकर्ताओं के द्वारा NH27 को जाम कर प्रदर्शन किया। इस मौके पर राजद कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह टायर जलाकर आगजनी की और विरोध प्रकट किया। भारत बंद को लेकर एनएच पर लंबी जाम देखी गईं। वहीं शहर में भी विभिन्न संगठनों ने भारत बंद को समर्थन दिया खासकर के नागरिक संघर्ष समिति, बहुजन मुक्ति पार्टी, कांग्रेसी के कार्यकर्ताओं ने भी सुबह से बाजार के विभिन्न हिस्सों में बाजार बंद समेत आदि करते नजर आए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.