बेगूसराय: पुलिस ने दबोचा दिनदहाड़े बैंक लूटने वाले अपराधियों को

0
36

दिनदहाड़े एसबीआई बैंक में हुई लूटपाट की घटना में बेगूसराय पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने इस मामले का पर्दाफाश करते हुए 3 अपराधियों को दबोचा है, जिन्होंने इस बड़ी वारदात को अंजाम दिया था. इनके पास से हथियार भी बरामद किये गए हैं.

बेगूसराय जिले के एसपी अवकाश कुमार ने बताया कि 3 दिसंबर को गढ़हरा ओपी क्षेत्र के ठकुरीचक में भारतीय स्टेट बैंक के ब्रांच में हुए लूट कांड मामले में बेगूसराय पुलिस ने खुलासा कर लिया है. बेगूसराय के दो अपराधियों ने लूट का मास्टर प्लान तैयार किया और पटना एवं समस्तीपुर के अपराधियों को बुलाकर इस घटना को अंजाम दिया था. घटना में शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और शेष बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

एसपी अवकाश कुमार ने शुक्रवार को अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि नौ अपराधियों ने एसबीआई शाखा में घुसकर चार लाख 91 हजार दो सौ रुपया समेत ग्राहकों का मोबाइल और सीसीटीवी का डीवीआर मशीन लूट लिया था. घटना के उद्भेदन के लिए सदर डीएसपी राजन सिन्हा और तेघड़ा डीएसपी ओमप्रकाश के नेतृत्व में कई थानाध्यक्ष सीसीएसएमयू सेल एवं चीताबल का एसआईटी गठन किया गया था. एसआईटी टीम ने सीसीटीवी फुटेज तथा मैनुअल एवं तकनीकी तकनीकी जांच के आधार पर छापेमारी कर तीन अपराधियों को पकड़ा है.

पकड़े गए अपराधियों में पटना जिला के आलमगंज थाना क्षेत्र स्थित बजरंगपुरी का निवासी मंटु पासवान उर्फ संतोष एवं बिस्कोमान कॉलोनी का ओमप्रकाश तथा समस्तीपुर जिला के बंगराहा (हाल मुकाम- दीपनगर पटना) निवासी करण कुमार को गिरफ्तार किया गया है. इन लोगों के पास चार देसी पिस्तौल, चार गोली, एक लूटा गया बैग, लूटे गए राशि में से 47510 रुपया, घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल एवं डीवीआर बरामद कर लिया गया है.

एसपी ने बताया कि वीरपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला अनिल महतों तथा जितेंद्र नाम के अपराधी ने लूट की साजिश रची और बैंक लूट के बाद सभी अपराधी थाना क्षेत्र के वीरपुर थाना क्षेत्र के जगदर में जमा हुए. इसके बाद विभिन्न जगहों पर चले गए. लूट का मास्टरमाइंड अनिल हत्या का भी आरोपी है. अनिल समेत शेष बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी करने के साथ-साथ इन लोगों के द्वारा किए गए घटना को खंगाला जा रहा है. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.